Asianet News HindiAsianet News Hindi

बच्चों के सामने कभी भी ना करें ये 5 बातें, उनके कॉन्फिडेंस को कम कर सकती है आपकी हरकत

कई बार मां बाप बच्चों को कुछ ऐसी बातें बोल देते हैं, जिससे उनका कॉन्फिडेंस चकनाचूर हो जाता है। ऐसे में आज हम आपको बताते हैं 5 ऐसी चीजें जो आप को बच्चों के सामने नहीं बोलनी चाहिए।

Parenting tips never says these five words to your kids dva
Author
First Published Aug 28, 2022, 9:58 AM IST

रिलेशनशिप डेस्क: बच्चों का पालन पोषण करना उन्हें सही संस्कार देना बहुत जरूरी होता है। ये कच्ची मिट्टी की तरह होते हैं जिन्हें हम जैसा बनाएंगे वैसा ही आगे जाकर वो बन जाते हैं। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि मां-बाप बच्चों से कुछ ऐसी बात बोल जाते हैं जो उनके दिल में घर कर जाती है और कुछ शब्द तो ऐसे होते हैं जिससे उनका कॉन्फिडेंस पूरी तरह से टूट जाता है। ऐसे में आज हम आपको बताते हैं ऐसी पांच बातें जो किसी भी पेरेंट्स को अपने बच्चे के सामने नहीं करनी चाहिए....

गाली गलौज 
बच्चे के सामने आपको गाली कभी नहीं देनी चाहिए, फिर चाहे वह गाली बच्चे को दे रहे हो या किसी और को, क्योंकि गाली सुनने से बच्चे के मन में नेगेटिविटी आती है और उसके मेंटल लेवल पर भी असर पड़ता है। बच्चा गाली देना तो सीखी जाता है लेकिन कई बार गाली सुनने से वह अपने आप को बहुत छोटा महसूस करने लगता है।

पागल हो गए हो क्या 
ज्यादातर पेरेंट्स को आप ने यह कहते हुए सुना होगा कि तुम पागल हो क्या? लेकिन बच्चों के सामने कभी भी ऐसी बात नहीं करनी चाहिए। ऐसे में बच्चा अपने आपको छोटा समझने लगता उसका कॉन्फिडेंस भी कम होने लगता है।

तुम किसी के लायक नहीं हो 
गुस्से में अक्सर पेरेंट्स अपने बच्चों को कह देते कि तुम उस काम के लायक नहीं हो, तुम से तो कुछ भी नहीं हो सकता है। लेकिन आपको हमेशा अपने बच्चों को पॉजिटिव चीजें बोलनी चाहिए। यह नहीं कहना चाहिए कि आप से यह काम नहीं होगा या तुम उस काम के लायक नहीं हो। इससे बच्चे का इंटरेस्ट उस काम के लिए तो कम होता ही है साथ ही उनका कॉन्फिडेंस के डाउन होने लगता है।

तुलना करना 
कई पेरेंट्स अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से या अपने ही दूसरे बच्चे से करने लगते हैं। ऐसे में बच्चे में हीन भावना पैदा होने लगती है और वह अपने भाई-बहन या दोस्तों से जलन की भावना रखने लगता है। ऐसे में पेरेंट्स को कभी भी अपने बच्चे की तुलना नहीं करनी चाहिए।

मां-बाप की लड़ाई 
पेरेंट्स को कभी भी अपने बच्चों के सामने लड़ाई झगड़ा या मारपीट नहीं करनी चाहिए। इससे बच्चे के मन में बुरा असर पड़ता है और उन्हें लगता है कि उनके माता-पिता हमेशा लड़ते रहते हैं। इससे वह भी लड़ाकू होने लगते हैं। साथ ही अपने मां-बाप की रिस्पेक्ट भी काम करते हैं।

और पढ़ें: इस उम्र से बच्चे को दे दें अलग कमरा, माता-पिता को जानना चाहिए ये जरूरी बातें

एक कप कॉफी सेक्स लाइफ को बना सकती है मजेदार, जानें कैसे करता है ये काम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios