Asianet News Hindi

इन चाइनीज ऐप्स पर नहीं लग सका है बैन, जानें इनके बारे में

चीन के साथ सीमा विवाद बढ़ने के बाद भारत सरकार ने चाइनीज ऐप्स पर तीसरी बार बैन लगाया। इस बार 118 ऐप्स बैन किए गए, जिनमें पॉपुलर गेमिंग ऐप PubG भी शामिल है। इसके बावजूद कुछ ऐसे ऐप्स हैं, जो एंड्रॉइड ऐप्स की लिस्ट में शामिल हैं।

India Digital Strike, Chinese apps Snack video, Zili and Resso are not banned now, know details MJA
Author
New Delhi, First Published Sep 3, 2020, 5:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टेक डेस्क। चीन के साथ सीमा विवाद बढ़ने के बाद भारत सरकार ने डिजिटल स्ट्राइक करते हुए चाइनीज ऐप्स पर तीसरी बार बैन लगाया। इस बार 118 ऐप्स बैन किए गए, जिनमें पॉपुलर गेमिंग ऐप PubG भी शामिल है। इसके बावजूद कुछ ऐसे ऐप्स हैं, जो एंड्रॉइड ऐप्स की लिस्ट में शामिल हैं। इन ऐप्स में Snack Video, Zili और Resso हैं। इसके अलावा, Ludo नाम का ऐप भी काफी पॉपुलर है।

बढ़ रहे Snack Video के यूजर्स
जून में टिकटॉक को बैन किए जाने के बाद यह ऐप काफी पॉपुलर हो रहा है। स्नैक वीडियो सिंगापुर बेस्ड ऐप है। यह टिकटॉक जैसा ही वीडियो मेकिंग एंड शेयरिंग प्लेटफॉर्म है। इसकी पेरेंट कंपनी Kuaishou Technology है। यह एक चाइनीज सॉफ्टवेयर कंपनी है, जिस पर दिग्गज चीनी टेक कंपनी Tencent का मालिकाना हक है। यह गूगल प्ले स्टोर पर टॉप फ्री ऐप्स की लिस्ट में पहले नंबर पर है।

शाओमी का Zili ऐप
यह भी शॉर्ट वीडियो ऐप है। इसकी पेरेंट कंपनी चीन की पॉपुलर स्मार्टफोन मेकर Xiaomi है। यह भी गूगल प्ले स्टोर पर टॉप 100 ऐप्स में से एक है। बता दें कि सरकार ने कुछ समय पहले 275 ऐसे ऐप्स की लिस्ट तैयार की थी, जिन पर नेशनल सिक्योरिटी और यूजर्स की प्राइवेसी के उल्लंघन का आरोप था। इस लिस्ट में Zili ऐप भी शामिल था।

बाइटडांस का Resso ऐप
यह एक म्यूजिक स्ट्रीमिंग ऐप है। यह टिकटॉक के स्वामित्व वाली कंपनी ByteDance का है। यह गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद टॉप 100 ऐप्स में से एक है। जुलाई महीने में इस ऐप को भारत में 14 लाख और अगस्त में 15 लाख बार डाउनलोड किया गया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios