Asianet News HindiAsianet News Hindi

ट्विटर अब फर्जी वीडियो की कर रहा पहचान, ट्रंप के रीट्वीट किए गए वीडियो को बताया डॉक्टर्ड

व्हाइट हाउस के सोशल मीडिया निदेशक डैन स्काविनो द्वारा ट्वीट किए गए इस क्लिप में बाइडेन लोगों से कहते नजर आ रहे हैं, ‘‘हम सिर्फ डोनाल्ड ट्रंप को पुन:निर्वाचित कर सकते हैं।’’ ट्रंप ने इसी फुटेज को रीट्वीट किया और सोमवार तक करीब 60 लाख लोगों ने इसे देखा।

Twitter is now identifying fake videos kpm
Author
Washington D.C., First Published Mar 9, 2020, 7:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

वाशिंगटन. ट्विटर ने फर्जी/डॉक्टर्ड वीडियो की पहचान करने वाली नीति का पहली बार प्रयोग करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा ट्वीट किए गए एक वीडियो की इस श्रेणी में पहचान की है। इस वीडियो में विरोधी डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता जो बाइडेन ट्रंप के फिर से चुने जाने का समर्थन करते से नजर आ रहे हैं।

कंपनी डॉक्टर्ड वीडियो और तस्वीरों पर नजर रखेगा

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म अतीत में इस तरह के फर्जी या डॉक्टर्ड वीडियो से निपटने के लिए काफी संघर्ष करता रहा है, लेकिन इस क्रम में उसपर यह भी आरोप लगे कि इन फर्जी वीडियो को हटाने के चक्कर में उसने कई लोगों के राजनीतिक विचारों को भी दबाया है। कंपनी ने पिछले ही सप्ताह घोषणा की थी कि वह ऐसे वीडियो/तस्वीरों पर नजर रखेगा जो डॉक्टर्ड हैं या जिनमें जानबूझकर छेड़छाड़ की गई है। उसी दिन कंपनी ने कहा था कि वह घृणा फैलाने वाले भाषणों पर प्रतिबंध में भी विस्तार करेगा।

वीडियो में क्या कहा गया था ?

व्हाइट हाउस के सोशल मीडिया निदेशक डैन स्काविनो द्वारा ट्वीट किए गए इस क्लिप में बाइडेन लोगों से कहते नजर आ रहे हैं, ‘‘हम सिर्फ डोनाल्ड ट्रंप को पुन:निर्वाचित कर सकते हैं।’’ ट्रंप ने इसी फुटेज को रीट्वीट किया और सोमवार तक करीब 60 लाख लोगों ने इसे देखा। यह वीडियो डॉक्टर्ड है और इसमें बाइडेन के वाक्य के अंतिम हिस्से को काट दिया गया है। वीडियो में बाइडेन के जुमले के अंत को क्रॉप कर दिया गया जिसमें वह मिसौरी में एक हालिया प्रचार अभियान में पार्टी एका पर चर्चा कर रहे थे।

बाइडेन ने कहा था, ‘‘हम डोनाल्ड ट्रंप को तभी पुन:निर्वाचित कर सकते हैं, जब हम चारों ओर से गोलियों से भूने जाने की हालत में पहुंच जाएं।’’ ट्विटर ने इस वीडियो क्लिप को ‘डॉक्टर्ड बताया है’’ जिसके बाद सोमवार के एक अन्य ट्वीट में स्काविनो ने इसका खंडन किया है।

(ये खबर पीटीआई/भाषा की है। हिन्दी एशियानेट न्यूज ने सिर्फ हेडिंग में बदलाव किया है।)

(फाइल फोटो)

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios