टेक डेस्क। कोरोना वायरस महामारी के दौरान ज्यादातर कंपनियों ने वर्क फ्रॉम होम का ऑप्शन अपनाया है। कहा जा रहा है कि आने वाले दिनों में भी यह ट्रेंड बना रहेगा। वर्क फ्रॉम होम के दौरान साइबर क्राइम से बचने के लिए सतर्क रहना बेहद जरूरी है। दरअसल, किसी भी स्टाफ के पास कंपनी के डाटा का एक्सेस रहता है। साइबर क्रिमिनल्स या हैकर्स इस डाटा तक अपनी पहुंच बना सकते हैं। इसलिए वर्क फ्रॉम होम के दौरान हर किसी को साइबर सिक्युरिटी के उपाय करने चाहिए। इसके लिए कुछ स्टेप्स फॉलो कर सकते हैं। जानें इनके बारे में।

1. अनॉथराइज्ड सिस्टम एक्सेस 
आजकल अनॉथराइज्ड सिस्टम एक्सेस का खतरा काफी है। हैकर्स को यह बात अच्छी तरह पता है कि ज्यादातर लोग अपने घरों से काम कर रहे हैं। अगर सिस्टम का पासवर्ड कमजोर या पुराना हो तो हैकर्स उसे तोड़ सकते हैं। इसलिए मजबूत पासवर्ड का होना जरूरी है। पासवर्ड को बदलते भी रहना चाहिए। इसके साथ ही कम्प्यूटर को लॉक रखना चाहिए।

2. टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन
टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन सिस्टम रखने से कोई दूसरा व्यक्ति अकाउंट में सेंध नहीं लगा सकता है। हैकर पासवर्ड तो चुरा सकता है, लेकिन उसके पास वह फोन मौजूद नहीं होगा, जिस पर वेरिफिकेशन कोड या ओटीपी आएगा। इसके साथ ही हैकर्स के पास फिंगर प्रिंट का एक्सेस भी नहीं हो सकता। इसलिए यह तरीका साइबर अटैक से बचाने के लिए काफी कारगर है। यू फैक्टर ऑथेंटिकेशन सिस्टम अलर्ट के तौर पर भी काम करता है। 

3. फिशिंग ईमेल और मैसेज
फिशिंग ईमेल और मैसेज के जरिए भी सिस्टम में सेंध लगाई जा सकती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोविड महामारी के दौरान फिशिंग ईमेल और कोविड-19 से जुड़े फर्जी लिंक आने के मामले काफी बढ़ गए हैं। इसलिए अगर आपके पास पीपीई, मास्क या सैनेटाइजर वगैरह से जुड़ा कोई लिंक आता है तो उस पर क्लिक नहीं करें। फिशिंग ईमेल के जरिए हैकर्स सिस्टम में सेंध लगाने में सफल रहते हैं। 

4. ऐसे रखें नेटवर्क को सुरक्षित
अगर आप वर्क फ्रॉम होम सुविधा के तहत काम कर रहे हैं, तो ऑफिस का लैपटॉप होने के बावजूद आप इंटरनेट के लिए होम वाई-फाई का ही इस्तेमाल करेंगे। होम नेटवर्क को सुरक्षित रखने के लिए आपको पासवर्ड मजबूत रखना होगा। इसे कभी भी फैमिली मेंबर्स के नाम या जन्म की तारीख पर नहीं रखें। अपने डिवाइस को होम नेटवर्क से कनेक्ट करने के लिए वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (VPN) का इस्तेमाल करें, लेकिन मुफ्त VPN के इस्तेमाल से बचें। इनसे सुरक्षा में सेंध लग सकती है।