Asianet News Hindi

मुंबई के डॉक्टर ने कोरोना को लेकर बयां किया दर्द, कहा- 'मैं थकने के बाद भी नहीं सोता हूं'

कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित होती जा रही है। कोरोना के 24 घंटे में 3.3 लाख नए मामले दर्ज किए गए और लगातार तीसरे दिन दो हजार से ज्यादा लोगों की मौतें हुई। इस महामारी में केवल लोग ही नहीं बल्कि हेल्थ वर्कर्स भी संघर्ष कर रहे हैं। 

Doctor Agni Kumar Bose Reveals that he does not get Sleep Despite Being tired Scary covid Second wave KPY
Author
New Delhi, First Published Apr 23, 2021, 9:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित होती जा रही है। कोरोना के 24 घंटे में 3.3 लाख नए मामले दर्ज किए गए और लगातार तीसरे दिन दो हजार से ज्यादा लोगों की मौतें हुई। इस महामारी में केवल लोग ही नहीं बल्कि हेल्थ वर्कर्स भी संघर्ष कर रहे हैं। कई बार तो डॉक्टर्स भी हेल्पलेस महसूस करते हैं। ऐसे में अब मुंबई बेस्ड डॉक्टर ने अपना दर्द बयां किया है। उन्होंने कहा कि वो थकने के बाद भी नहीं सोते हैं।

कुछ हफ्ते से काफी डरावना महसूस कर रहा हूं- डॉक्टर 

डॉक्टर अग्नी कुमार बोस ने हाल ही में कहा कि 'पिछले कुछ हफ्ते से ये समय काफी डरावना महसूस हो रहा है।' 26 साल के डॉक्टर King Edward Memorial Hospital मुंबई में काम करते हैं। उन्होंने ये भी बताया कि PPE Kit  में कुछ घंटे बिताना कितना मुश्किल होता है। डॉ.  बोस ने आगे कहा कि 'वो एक बार PPE Kit पहनने के बाद अपनी शिफ्ट पूरी होने तक उसे पहन कर रखते हैं। अपनी शिफ्ट शुरू करने से पहले वो थोड़ा पानी पीते हैं। लेकिन बाद में ये डीहाईड्रेशन का कारण बन जाती है।'

ड्यूटी खत्म होते ही पानी पीते हैं डॉक्टर्स 

डॉ. बोस ने ये भी बताया कि 'वो लोग अपनी शिफ्ट खत्म करने के बाद पहले पानी पीते हैं। हमेशा मास्क पहने रहने से सांस लेने में दिक्कत भी होती है और सिर में हल्का दर्द रहता है।' डॉक्टर अपनी पोस्ट में लिखते हैं कि वार्ड मरीजों से भरा हुआ है। पिछले दो हफ्ते से ये काफी डरावना है। ये सभी के लिए मुश्किल भरा समय है। 

बोस ने अपनी पहली कोविड ड्यूटी को याद करते हुए कहा कि 'मुझे मेरी पिछले साल की पहली कोविड ड्यूटी आज भी याद है। उनकी शिफ्ट रात 2 बजे से सुबह 8 बजे तक रहती थी। इस दौरान उन्होंने अपने 15 मरीज खो दिए थे। इसमें से एक मरीज 37 साल का था। ये उनके लिए आंख खोल देने वाला समय है।' बोस अपने MD परीक्षा के लिए भी तैयारी कर रहे हैं, जो कि काफी प्रेशर वाला समय है।

डॉक्टर ने कहा, 'एक बार मैं ड्यूटी करके घर लौटा। फिर सोया और आराम किया। बचे हुए टाइम पर मैं पढ़ाई कर रहा था। ये काफी तनावपूर्ण समय है। मैं थकने के बाद भी सो नहीं पाता हूं और सोने के लिए गोलियां खाता हूं।'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios