Asianet News HindiAsianet News Hindi

प्रेग्नेंसी में महिला ने खाई ऐसी गोलियां, डिलीवरी हुई तो सब रह गए दंग, 5 करोड़ में सिर्फ 1 के साथ ऐसा होता है

हैदराबाद (Hyderabad) में एक 27 साल की महिला ने एक साथ चार बच्चों को जन्म दिया है। महिला ने बताया कि प्रेग्नेंसी के दौरान उसने कुछ गोलियां ली थीं, जिसकी वजह से ऐसा हुआ। 

Hyderabad woman gave birth to four children
Author
Hyderabad, First Published Oct 28, 2021, 3:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

(सांकेतिक तस्वीर है)

हैदराबाद (Hyderabad). यहां एक ऐसा मामला सामने आया है, जो 5 करोड़ लोगों में से सिर्फ एक के साथ होता है। यहां एक महिला ने एक साथ 4 बच्चों को जन्म दिया। चार बच्चों (Quadruplets Birth) की प्रेग्नेंसी अत्यंत दुर्लभ मानी जाती है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 5 करोड़ जन्मों में से एक के साथ ऐसा होता है। ऐसी प्रेग्नेंसी बहुत जटिल होती है। लेकिन हैदराबाद में 27 साल की महिला के साथ ऐसा हुआ। वह हफीजबाबा नगर की रहने वाली है। हैरानी की बात तो ये है कि चार में से एक बेटा और तीन बेटियां हैं। 

फर्टिलिटी के लिए ली थी कुछ गोलियां
टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने फर्टिलिटी बढ़ाने वाली कुछ गोलियां ली थीं। ऐसे केस बहुत ही दुर्लभ माना जाता है। मीना मल्टी-स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर शोबा शुकूर ने बताया कि महिला को पहले से ही हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत थी। ऑपरेशन के दौरान उसका ब्लड प्रेशर 170/110 तक पहुंच गया था। उन्होंने आगे कहा, सी सेक्शन के दौरान महिला का बहुत ज्यादा खून बह गया। ऐसे में उसे खून चढ़ाना पड़ा। प्रसव के दौरान बच्चों ने गंदा पानी छोड़ना शुरू कर दिया था, जिससे ऑपरेशन और भी ज्यादा जटिल हो गया था। क्योंकि ऐसी स्थिति में बच्चों और मां दोनों की जान को खतरा होता है। मौत भी हो सकती है।

तीन घंटे तक डिलीवरी होती रही
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऑपरेशन इतना ज्यादा जटिल था कि तीन घंटे का समय लग गया। जिस हॉस्पिटल में डिलीवरी हुई, वहां 10 हजार केस में ये अपनी तरह का पहला केस है। फिलहाल चारों बच्चे सुरक्षित और स्वस्थ हैं। उनमें से दो को ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है जबकि दो अपने आप सांस ले रहे हैं। वहीं की हालत भी ठीक है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, स्वाभाविक रूप से, जुड़वां बच्चे 250 प्रेग्नेंसी में से एक को होता है। वहीं तीन की बात करें तो ऐसे केस 10000 में से एक का होता है। वहीं चार बच्चों की बात करें तो 5 करोड़ केस में एक के साथ ऐसा होता है। कई लोग पूछते हैं कि एक साथ चार बच्चों के पैदा होने की संभावना को कैसे बढ़ाया जा सकता है। दरअसल एक साथ 4 बच्चे को पैदा करने की कोई गारंटी नहीं है। हालांकि आईवीएफ इसके लिए सबसे बेहतर तरीका माना जाता है। लेकिन इसमें भी कोई सिक्योरिटी नहीं है।

ये भी पढ़ें.

जमीन पर घसीटा, पत्थर से कुचला...15 साल के लड़के ने 23 साल की लड़की के साथ ऐसे की रेप की कोशिश

जिसे समझा जा रहा था कब्रों का लुटेरा वह निकला आम इंसान, वैज्ञानिकों ने बताया- ऐसे दी गई थी दर्दनाक मौत

संबंध बनाने के दौरान पति ने लिया दूसरी महिला का नाम, भड़क गई पत्नी, ऐसा बवाल हुआ कि उड़ गए पति के होश

लाश के साथ एक साल तक सोते रहे 3 भाई, शरीर सड़ चुका था, हड्डियां गल गई थी, चौंकाने वाली है कहानी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios