5 लाख मील में फैली जगह जहां 20 विमान व 50 पानी के जहाज पलक झपकते हुए खाक और घोंघे के खोल जैसी यह आकृति है क्या

| Jan 18 2022, 04:20 PM IST

5 लाख मील में फैली जगह जहां 20 विमान व 50 पानी के जहाज पलक झपकते हुए खाक और घोंघे के खोल जैसी यह आकृति है क्या

सार

अजीबो-गरीब रहस्यों (Strangest Things) से भरी हमारी धरती हर बार नई-नई जानकारियों के साथ सामने आती है। ऐसे तमाम अनसुलझे रहस्य हैं, जिनका पता लगाने की कोशिश जारी है, मगर वैज्ञानिकों (Scientist) और इतिहासकारों (Historians) के सामने ऐसी पहेली खड़ी हो जाती है, जो उसे और भी जटिल बना देती है।

नई दिल्ली। हमारी धरती रहस्यों (Strangest Things on Earth) से भरी हुई है। काफी खोजबीन और कड़ी मशक्कत के बाद कुछ रहस्य सुलझा लिए गए, जबकि कई आज भी ऐसे हैं, जिन्हें सुलझाने में लगे लोग या फिर साधन-संसाधन खुद गायब या तबाह हो गए। आज हम आपको ऐसे ही कुछ रहस्यों से रूबरू कराएंगे, जो न सिर्फ भयावह हैं बल्कि अब तक अनसुलझे हैं। 

विमान हो या पानी के बड़े से बड़े जहाज सब हो गए खत्म 
धरती पर ऐसी ही एक जगह है बरमुडा ट्राइएंगल (Bermuda Triangle) जो आज भी रहस्यों से भरपूर है। करीब पांच लाख वर्ग मील यानी 12 लाख 90 हजार वर्ग किलोमीटर में फ्लोरिडा (Florida)  के मियामी (Miami) से प्यूर्तो रिको (Puerto Rico) के सैन जुआन (San Juan) तक फैला हुआ है। यहां 20 से अधिक विमान और पानी के 50 बड़े जहाज पूरी तरह तबाह हो गए। माना जाता है कि यहां ऐसी तरंगें हैं जो चुंबकीय शक्ति के जरिए इन्हें खींचती हैं और यही दुर्घटना की वजह बनती है। 

Subscribe to get breaking news alerts

यह भी पढ़ें: प्लेटफॉर्म पर आ रही थी ट्रेन तभी शख्स ने महिला को दिया धक्का, मौत हुई तो बोला- मैं भगवान हूं 

आंख की आकृति वाला गुंबद है या उल्कापिंड से बना गड्ढा 
माॅरिटानिया (Mauritania) का रिचैट स्ट्रक्चर (Richat Structure) आज भी पहेली बना हुआ है। अंतरिक्ष से जब एस्ट्रानाॅट्स यानी अंतरिक्ष यात्री देखते हैं तो यह सहारा की आंख जैसी आकृति का दिखाई देता है। लेकिन ओआडेन (Ouadane) में इंसान ने जब पहली बार अंतरिक्ष में प्रवेश किया तो अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (International Space Station) से देखने पर यह करीब 30 वर्ग मील यानी लगभग 48 वर्ग किलोमीटर में फैला बैल की एक आंख या घोंघे कि खोल जैसी आकृति का दिखाई दिया। वैसे माना जाता है कि यह भूगर्भीय क्षेत्र उल्कापिंड के टकराने से बना गड्ढा है, जबकि कुछ विशेषज्ञों का दावा है कि यह कभी एक विशालकाय गुंबद था, जो समय के साथ नष्ट हो गया। 

यह भी पढ़ें: Thailand के इस शहर पर बंदरों का कब्जा, गैंग बनाकर दुकानों में कर रहे लूटपाट, लोग घर छोड़कर भागने को मजबूर  

इस संरचना को देखकर वैज्ञानिक आज भी हैरान 
इंग्लैंड में स्टोनहेंज (Stonehenge) जिसे चट्टानों का चक्र भी कहते हैं, दुनियाभर के सबसे चर्चित रहस्यमय स्थलों में से एक है। इतिहासकार और वैज्ञानिक दोनों की टीम इस हिस्से को देखकर चकित हैं कि करीब 5 हजार साल पहले इसे बनाने वालों ने इस भारी मोनोलिथ पत्थर को कैसे एक जगह से दूसरे जगह ले गए होंगे। हालांकि, 2019 में न्यू कैसल यूनिवर्सिटी के छात्रों ने इस पहेली को हल करने की कोशिश की। उनके मुताबिक, मनुष्य ने तब सुअर की चर्बी से चिकनाई युक्त स्लेज बनाकर इन भारी पत्थरों को खींचा होगा।