Asianet News Hindi

6 दिन के बच्चे को 3.6 लाख रु में बेचकर कपल ने पुलिस से कहा- बच्चा किडनैप हुआ, फिर ऐसे हुआ खुलासा

खबर मिलते ही दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश में भी अलर्ट कर दिया। बाद में कानपुर रेलवे स्टेशन पर किडनैप बच्चे को ले जाने के आरोपी को ट्रैक करने के लिए कहा, जिसके बाद एक अन्य कपल विद्यानंद यादव (50) और उनकी पत्नी रामपरी देवी (45) को बच्चे के साथ पकड़ लिया गया। 

Parents sold 6 day old baby in Delhi for Rs 4 lakh kpn
Author
New Delhi, First Published Jun 18, 2021, 10:24 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने बच्चे को बेचने के आरोप में 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने 6 दिन के बच्चे के माता-पिता भी शामिल है। पुलिस ने कहा कि उन्हें मंगलवार शाम एक कपल का फोन आया, जिन्होंने आरोप लगाया कि उनके एक रिश्तेदार ने उनके बच्चे का अपहरण कर लिया है। कपल गोविंद कुमार (30) और उनकी पत्नी पूजा देवी (22)  ने अपने रिश्तेदार हरिपाल सिंह (50) पर 15 जून की सुबह उनके बच्चे का अपहरण करने का आरोप लगाया।

फिर हुआ पूरी कहानी का खुलासा
पुलिस से पूछताछ में कपल ने बताया कि विद्यानंद यादव और रामपरी देवी ने बच्चे को गोविंद कुमार और पूजा देवी से लाखों रुपए देकर खरीदा था।

पुलिस ने बताया, हमें यूपी पुलिस से सूचना मिली, जिसके बाद हमारी एक टीम कानपुर पहुंची। पूछताछ में कपल ने बताया कि उन्होंने किडनैपिंग नहीं की, बल्कि पैसे देकर खरीदा है।
 
3.6 लाख रुपए में बच्चे को बेचा

पुलिस ने कहा, हो सकता है कि बच्चे को बेचने के बाद मां का हृदय परिवर्तन हो गया हो। कपल ने हमें आया नगर में हरिपाल के घर के बारे में बताया। जब हमने हरिपाल को पकड़ा तब उसने कहा कि बच्चे को 3.6 लाख रुपए में बेचा था।

पुलिस ने कहा कि हरिपाल, रमन यादव नाम के एक व्यक्ति को जानता था, जो अपने रिश्तेदारों विद्यानंद और रामपारी के लिए एक बच्चा खरीदना चाहता था। विद्यानंद और रामपरी की शादी को 25 साल से ज्यादा हो गए थे, लेकिन उनके कोई बच्चे नहीं थे।

माता-पिता को मिले 2 लाख रुपए
उन्होंने बताया कि डील में तय हुआ था और बच्चे के माता-पिता को 2 लाख रुपए नकद दिए गए। दोनों कपल के बीच एक समझौते पर भी सिग्नेचर किए गए। गोविंद और पूजा को 60,000 रुपए के चार चेक दिए गए। लेकिन बाद में उनका हृदय परिवर्तन हुआ होगा और फिर पुलिस को बुलाया। 

8 जून को हुआ था बच्चे का जन्म
पुलिस ने पाया कि बच्चे का जन्म 8 जून को गुरुग्राम के हॉस्पिटल में हुआ था। इसके बाद बच्चे और उसकी मां को 10 जून को छुट्टी दे दी गई। पुलिस ने बताया कि सभी छह आरोपी नई दिल्ली के आया नगर स्थित हरिपाल के घर पर मिले थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios