Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी से सामने आया राम वंशज, बोला- हम सुप्रीम कोर्ट में सबूत दिखाने को तैयार

देश में लंबे समय से लगातार चर्चा में रहे अयोध्या राम जन्मभूमि मामले के मामले में जहां सुप्रीम कोर्ट में तेजी से सुनवाई चल रही है, वही एक नया विवाद और आन खड़ा हुआ है। खुद को राम के वंशज कहने वाले एक के बाद एक सामने आ रहे हैं। 

a man from u.p confronts about being decesedent of lord ram
Author
Muzaffarnagar, First Published Aug 18, 2019, 1:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुजफ्फरनगर: अयोध्या मामले में जयपुर और मेवाड़ के बाद अब उत्तरप्रदेश से भी भगवान श्रीराम के वंशज होने का दावा किया जा रहा है। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने मुजफ्फरनगर स्थित अपने आवास पर पत्रकार वार्ता बुलाकर उसमें खुद को राम का वंशज बताया है। उनका कहना है कि असली राम के वंशज बालियान खाप है, जिनका गोत्र रघुवंशी है और यहां उनके 84 गांव हैं जिसके वह मुखिया हैं। पत्रकारों द्वारा इस बात का सबूत पूछने पर उन्होंने कहा कि सबूत उनका रघुवंशी गोत्र है। यहां सभी 84 गांव रघुवंशीयों के हैं। उन्होंने कहा कि उनके पास वंशावली के साथ और भी कई प्रमाण हैं और वह कोर्ट के सामने सारे सबूत रखने को तैयार हैं।

सरकार जल्द करे फैसला

चौधरी नरेश ने कहा कि सभी को मालूम है कि भगवान राम अयोध्या में पैदा हुए। वहां हुई खुदाई से यह साबित हो चुका है कि वहां मंदिर था। वहां मस्जिद के होने का कोई सबूत नहीं है। इसका मसले का जल्द से जल्द फैसला होना चाहिए। राकेश ने कहा कि जिस तरह कश्मीर और तीन तलाक का मुद्दा हल किया गया है। उसी तरह लोगों को उम्मीद है कि सरकार इस मसले को भी हल जल्द ही करेगी।

 जयपुर राजघराने ने किया था लव-कुश के वंशज होने का दावा

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। बीते नौ अगस्त को कोर्ट ने रामलला के वकील से पूछा था कि क्या भगवान राम का कोई वंशज अब भी अयोध्या या दुनिया में है। जिसके बाद ही जयपुर के राजपरिवार ने दावा किया था कि वे भगवान राम के बेटे कुश के नाम पर विख्यात कच्छवाहा वंश के वंशज हैं। वहीं, मेवाड़ के पूर्व राज परिवार ने भी दावा किया था कि वे श्रीराम के बेटे लव के वंशज हैं।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios