Asianet News HindiAsianet News Hindi

बारात में एक रसुगुल्ले ने बहा दी खून की नदी-एक की मौत, दुल्हन बिना लौटा दूल्हा, पढ़ें पूरा मामला

यूपी की ताजनगरी आगरा में बुधवार की देर रात शादी में रसगुल्ला को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हो गया। विवाद में जमकर चाकूबाजी हुई। कई लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां एक की उपचार के दौरान मौत हो गई। 

Agra Murder for rasgulla knife went with assault on two sides in the marriage bride returned without the procession
Author
First Published Oct 27, 2022, 1:58 PM IST

आगरा: उत्तर प्रदेश की ताजनगरी आगरा में दो पक्षों के बीच एक रसगुल्ले को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि जमकर चाकूबाजी हुई तो कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए। आनन-फानन में सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन इलाज के दौरान एक युवक की मौत हो गई। इस घटना के बाद बारात बिना दुल्हन लिए ही वापस लौट गई। हंगामे और मौत की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। वहीं दूसरी ओर तनाव को देखते हुए पुलिस में फोर्स तैनात कर दी गई है।

समय से पहुंच गई थी बाराती, रसगुल्ला मांगने पर शुरू हुई बहस
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के एत्मादपुर का है। यहां के खंदौली के रहने वाले व्यापारी वाकर के बेटे जावेद और राशिद की शादी उसी थाना क्षेत्र के अंतर्गत रहने वाले उस्मान की बेटियां जैनब और साजिया के साथ तय हुई थी। दोनों की शादी बुधवार को एत्मादपुर के मैरेज हाउस विनायक भवन में होनी थी। जब बारात पहुंच गई तो लड़की पक्ष के लोगों ने बारात का स्वागत किया। ऐसा बताया जा रहा है कि बारात अंदर गई तो वहां रसगुल्ले दिए जा रहे थे। एक बाराती ने एक से ज्यादा रसगुल्ले मांगे तो काउंटर पर खड़े युवक ने मना कर दिया। दोनों के बीच झगड़ा शुरू हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि रसगुल्लों के लिए चाकू निकल आए।

डेढ़ घंटे के अंदर आधे से ज्यादा बराती जा चुके थे वापस
इस विवाद में बारात में आया 20 वर्षीय सनी गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक के चाचा का कहना है कि समय से बारात लेकर विनायक भवन पहुंच गए थे। दुल्हन पक्ष के लोग भी बारात का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। जैसे ही बारात पहुंची तो खाना शुरू करा दिया गया। करीब एक से डेढ़ घंटे के अंदर आधी बारात खाना खाकर अपने घरों को वापस जा चुकी थी क्योंकि लोकल का मामला था तो सभी घर जाना चाहते थे। निकाह के लिए कुछ खास रिश्तेदार और दूल्हे ही रूक रहे थे। निकाह की तैयारियों के बीच खानदान के कुछ लड़के खाना खाने के लिए बैठे। खाना के बाद मीठे में रसगुल्ला आया तो सब खाकर उठ गए पर जो खिला रहे थे उनसे दोबारा रसगुल्ले की मांग की गई तो बात यहीं से बिगड़ गई। 

महिलाओं से अभद्रता के साथ गहनों को भी लूटा
दोनों तरफ से बहस शुरू हुई और बात इतनी बढ़ गई की चाकू निकल आए, कांटे चले और कुर्सियां फेंक कर मारी जाने लगी। इस विवाद को महिलाओं और बुजुर्गों ने रोकने की कोशिश की लेकिन कोई माना नहीं। देखते ही देखते शादी का माहौल मातम में बदल गया। दूसरे खिलाफ एफआईआर करवा कर रहे हैं। इस घटना पर पहुंची पुलिस ने शादी में हुए बवाल में खंदौली के रहने वाले शाहरुख, निजाम, शकील, जानू, रहमान, रामिया सहित करीब 12 से ज्यादा लोग घायल हैं। सभी का इलाज कराया जा रहा है। विवाद के बाद एहतियात के तौर पर पुलिस फोर्स लगा दी गई है। दूसरी ओर मृतक सनी के चाचा का आरोप है कि उपद्रवियों ने महिलाओं के साथ भी अभद्रता की है। इतना ही नहीं उनके गहने भी लूट गए हैं।

दुल्हन पक्ष में छाया सन्नाटा, इलाज के दौरान हुई मौत
बारात में हुए बवाल के बाद दूल्हा पक्ष काफी नाराज है और काफी मानने के बाद भी वह नहीं माने। शादी बिना किए ही बरात लेकर वापस चले गए थे। इस वजह दुल्हन के घरवालों में मातम छाया है जबकि सनी के घरवालों ने तहरीर दी है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। वहीं एसपी ग्रामीण सत्यजीत गुप्ता का कहना है कि रसगुल्ले को लेकर शादी में बवाल हुआ है। उन्होंने आगे कहा कि इसकी जिसकी जांच की जा रही है और इस वजह से एक घायल की इलाज के दौरान मौत हो गई है।

सीतापुर: पहले पत्नी का काटा गला, फिर पेट्रोल डालकर की जिंदा जलाने की कोशिश, पीड़िता ने पति पर लगाए गंभीर आरोप

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios