Asianet News HindiAsianet News Hindi

अलीगढ़: पांच बच्चियों से अश्लीलता करने वाले परिवारों का छलका दर्द, कहा- कभी नहीं सोचा था ऐसा करेगा आरोपी

यूपी के अलीगढ़ के लोधा ब्लॉक के एक गांव निवासी युवक ने पांच बच्चियों के साथ अश्लीलता और छेड़छाड़ की है। इस घटना के बाद से गांव के हर व्यक्ति में आक्रोश झलक रहा है। पुलिस ने आरोपी और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Aligarh pain of families who committed obscenity with five girls said never thought that accused would do this
Author
First Published Oct 29, 2022, 11:17 AM IST

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में लोधा ब्लॉक के एक गांव के हर एक व्यक्ति में आक्रोश है। ग्रामीण हर किसी को संदेह की नजरों से देख रहे हैं। कई साल से परिवार की तरह साथ रह रहे ग्रामीणों ये नहीं सोच पा रहे हैं कि किस पर विश्वास करें और किस पर नहीं। बीते 25 अक्टूबर की घटना ने सभी को झझकोर कर रख दिया। गांव के एक आरोपी ने पांच बच्चियों से छेड़छाड़ और अश्लीलता की थी। मामले की शिकायत के बाद आरोपी तो जेल चला गया लेकिन गांव का माहौल अभी भी संवेदनशील बना हुआ है। पीड़ित बच्चियों के परिवार ने बताया कि दशकों से लोग परिवार की तरह रहते चले आ रहे हैं। लेकिन पांच बच्चियों के साथ हुई अश्लीलता की घटना के बाद गांव का माहौल बिलकुल ही बदल गया है। 

आरोपी को सख्त सजा देने की हुई मांग
ग्रामीणों की मांग है कि बच्चियों के साथ ऐसी घिनौनी हरकत करने वाले आरोपी को सख्त से सख्त सजा दी जाए। जिससे कि दोबार गांव में कोई ऐसी घिनौनी हरकत ना करे। बता दें कि लोधा थाना क्षेत्र में 25 अक्टूबर को मानवता को शर्मसार करने वाली घटना घटी थी। गांव में रहने वाले 45 साल के राकेश ने अपनी पत्नी की मदद से पड़ोस में रहने वाली पांच बच्चियों को टॉफी और रुपए देने के बहाने अपने घर बुलाया था। जिसके बाद आरोपी ने उन मासूम बच्चियों के साथ बारी-बारी से अश्लीलता की थी। इसके बाद जब यह मामला ग्रामीणों की जानकारी में आया तो हड़कंप मच गया। जिसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने आरोपी को फौरन गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। 

शिकायत करने पर परिवारों को धमकाने लगा आरोपी
बता दें कि पीड़ित और आरोपी दोनों ही एससी है। तीन पीड़ित बच्चियां जाटव समाज की हैं और दो पीड़ित बच्चियां वाल्मीकि समाज की हैं। बच्चियों की मां इस घटना के बाद से सदमे में हैं। पीड़ित बच्ची की मां ने बताया कि घटना की जानकारी होने के बाद जब वह आरोपी के पास शिकायत लेकर पहुंची तो आरोपी उल्टा उन्हीं को धमकाने लगा। बच्ची की मां ने बताया कि आरोपी राकेश जाटव समाज से है। शुरू से ही वह पूजा-पाठ में रुचि रखता है। गांव का हर व्यक्ति उसे धार्मिक प्रवत्ति का समझकर उसका सम्मान करते थे। आरोपी राकेश के 6 बच्चे हैं। जिनमें 4 बेटियां और 2 बेटे हैं। किसी ने ऐसा नहीं सोचा था कि वह ऐसी हरकत करेगा। वहीं गांव के कुछ लोगों ने बताया कि आरोपी राकेश भांग का सेवन करता है। कभी-कभी उसके अंदर एक अजीब सी सनक नजर आती थी। 

टॉफी देने के बहाने बच्चियों को बुलाया था घर
परिजनों का आरोप था कि राकेश ने टॉफी देने के बहाने बच्चियों का अपने घर बुलाकर उनसे अश्लीलता की थी। आरोपी ने मासूम बच्चियों के मासूम बच्चियों के गुप्तांगों को छुआ और उसमें उंगली भी डाली। जिसके बाद बच्चियों ने अपने माता-पिता को सारी घटना बताई। बता दें कि पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 376 और पॉस्को एक्ट में मुकदमा दर्ज किया है। ग्रामीणों ने बताया कि इस अशोभनीय घटना के बाद गांव में पंचायत बैठी थी। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच समझौता भी हो गया था। पंचायत के सामने आरोपी से माफी मंगवाई गई थी। लेकिन इसके बाद आरोपी राकेश की पत्नी ने खुद पुलिस को फोन कर शिकायत कर दी कि उसके पति का अपहरण हो गया है। गांव में पुलिस पहुंचने के बाद उसने अपहरण का आरोप पीड़ित परिवारों पर लगाया। 

पुलिस मामले की कर रही जांच
इसके बाद पुलिस के सामने पूरा मामला खुलता चला गया। पुलिस ने दंपति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं आरोपी राकेश की बेटी ने बताया कि उसके पिता को झूठे आरोप में फंसाया जा रहा है। उसने बताया कि घटना के दिन उसका भाई और दूसरे पक्ष का लड़का खेत में शौच के लिए गए थे। तभी दूसरे पक्ष के लड़के ने उसके भाई के चेहरे पर गंदगी फेंक दी थी। इसी बात को लेकर विवाद हुआ तो दूसरे पक्ष के लोगों ने उसके पिता पर झूठा आरोप लगाते हुए उन्हें जेल भेज दिया। बता दें कि आरोपी राकेश ने भी पुलिस ने दूसरा पक्ष सुनने की मांग की है। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने बताया कि जांच के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

विवाहिता से प्रेम-प्रसंग बना जवान की मौत का कारण, दिवाली पर आया घर तो हमलावरों ने दी ऐसी दर्दनाक मौत

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios