Asianet News HindiAsianet News Hindi

मां की डांट से नाराज बच्ची अकेले ही पहुंची नोएडा से अलीगढ़, पुलिसकर्मियों की कोशिशों के बाद निकला ये फैसला

यूपी के जिले नोएडा से अलीगढ़ नौ साल की बच्ची अकेले पहुंच गई। ऐसा इसलिए क्योंकि वह मां की डांट से नाराज होकर घर छोड़ने का फैसला कर लिया। नौ साल की लड़की घर से भागकर बस स्टैंड पहुंची और बस में बैठकर नोएडा से अलीगढ़ पहुंच गई।

Angered mother scolding girl reached Aligarh alone from Noida decision came out efforts by the policemen
Author
First Published Sep 15, 2022, 5:41 PM IST

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में पहले भी ऐसे कई मामले सामने आए है जब माता-पिता अगर डांट देते है तो बच्चा नाराज होकर घर छोड़कर चला जाता है। ऐसा ही एक मामला शहर के नोएडा से सामने आया है। शहर में रहने वाली नौ साल की बच्ची मां की डांट से इतना नाराज हो गई कि उसने घर छोड़ने का फैसला कर लिया। लड़की घर से भागकर बस स्टैंड पहुंची और बस में बैठकर नोएडा से अलीगढ़ पहुंच गई। वहां पहुंचने के बाद बच्ची अनजान शहर के बस स्टैंड के पास ही इधर-उधर घूम रही थी। इसी दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मियों की नजर उस पर पड़ी।

पुलिस के दोबारा पूछने पर बच्ची ने बताया सच
बच्ची को इस तरह देखकर पुलसिकर्मियों ने माता-पिता और उसके बारे में पूछा लेकिन बच्ची ठीक से जवाब नहीं दे रही थी। इसके बाद पुलिस बच्ची को थाने ले आई और यहां पर उसे बिस्कुट, चॉकलेट देकर प्यार से एक बार फिर से माता-पिता के बारे में पूछा। तब बच्ची ने बताया कि वह नोएडा से घर छोड़कर आई है। नौ साल की बच्ची पुलिसवालों को अलीगढ़ के मसूदाबाद बस स्टैंड पर मिली। जिसके बाद बन्नादेवी पुलिस उसे अपने साथ ले गई और माता पिता के बारे में पता लगाना शरू किया। बच्ची के द्वारा नोएडा बताने के बाद पुलिस ने नोएडा पुलिस से संपर्क किया।

परिजन को पुलिस ने दी हिदायत
पुलिस की काफी मशक्कत के बाद बच्ची के परिवार का पता लगाया गया। पुलिस की जानकारी के अनुसार बच्ची के परिजन गौतमबुद्धनगर (नोएडा) के थाना जेवर क्षेत्र के नगलिया जहांगीरपुर के रहने वाले थे। नौ साल की बेटी की सूचना पुलिस द्वारा मिलते ही पिता और परिवार के अन्य सदस्य अलीगढ़ आ गए। उसके बाद बच्ची को सकुशल परिवार को सौंप दिया गया है। इसके अलावा परिजन को हिदायत दी गई है कि बच्चों का खास ध्यान रखें। ऐसा डॉक्टरों का कहना है कि टीवी और मोबाइल की वजह से बच्चों में कई सारे मानसिक बदलाव हो रहे हैं। इसी वजह से बच्चे अक्सर गुस्से में आकर ऐसे काम कर देते हैं। 

लखीमपुर कांड: मृतक दलित नाबालिग बहनों का अंतिम संस्कार करने से परिवार ने किया इनकार, सरकार से रखीं 3 शर्तें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios