Asianet News HindiAsianet News Hindi

अयोध्या: पीछे खड़े व्यक्ति को हटाते हुए बोले CM योगी- आपने बहुत जमीन पर कब्जा किया होगा, विपक्ष को मिला मुद्दा

अयोध्या में सीएम की प्रेसवार्ता का एक वीडियो वायरल होने के बाद विपक्ष इसको मुद्दा बना रहा है। इस वीडियो में वह पीछे खड़े हुए व्यक्ति को हटाते हुए कहते हैं कि आपने बहुत जमीन पर कब्जा किया होगा।

Ayodhya CM removes the person standing behind him saying you must have occupied a lot of land video viral opposition made issue
Author
First Published Oct 28, 2022, 4:14 PM IST

अनुराग शुक्ला

अयोध्या: दीपोत्सव के ठीक दूसरे दिन अयोध्या में पत्रकार वार्ता के चंद सेकंड पहले का एक वीडियो चर्चा का विषय बन गया है। जिसमें सीएम योगी आदित्यनाथ ने पीछे खड़े लोगों को हटाते हुए कहा कि, 'आप पीछे रहिए आपने बहुत जमीन को कब्जा किया होगा'। इसके बाद पीछे खड़े लोगों ने खुलकर ठहाका भी लगाया। वीडियो में कुछ  साधु- संत और अयोध्या के शीर्ष जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी दिख रही है। वीडियो वायरल होने के बाद समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने बयान को मुद्दा बना कर मोर्चा खोल दिया है। इनका कहना है कि एक तरफ योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में जनता दरबार के दौरान अधिकारियों को अवैध जमीन पर कब्जेदारी ना हो इस पर सख्त कार्रवाई करने की बात कहते हैं ।तो वहीं दूसरी तरफ अयोध्या में जमीन की अवैध खरीद-फरोख्त करने वाले लोगों को पनाह दिए हुए हैं ।

विधायक और पार्टी के नेता ही जमीन की लूट में शामिल
समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडे ने वायरल हुए बयान को गंभीर बताते हुए कहा कि बीजेपी के लोग जमीन की खरीद-फरोख्त कर रहे हैं और अयोध्या को लूट रहे हैं। अगर सीएम ने यह बोल दिया तो क्या अपराध किया। उन्हें इस पर कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा की पहले ही सपा ने इस मुद्दे पर आवाज उठाई थी। अयोध्या में यह गलत काम हो रहा है। लोगों की जमीनों पर कब्जेदारी हो रही है। बताया था कि यह सब बीजेपी के नेता ही कर रहे हैं। और कोई दूसरा नहीं कर रहा है। सीएम योगी पर आरोप लगाते हुए कहा कि इन लोगों का संरक्षण वे खुद दे रहे हैं। अगर सीएम का संरक्षण नहीं होता तो मीडिया में जमीन खरीद-फरोख्त की बातें सुर्खियां बनी ।फिर भी कार्रवाई क्यों नहीं की गई ? उन्होंने कहा बीजेपी के विधायक सहित सभी नेता जमीन के कारोबार में लिप्त हैं। तो इस पर कार्रवाई क्यों नहीं हो रही है। कोई भी सीएम हो वह सब जानता है कि हमारे नेता ,डीएम और कप्तान क्या कर रहे हैं ।उन्होंने तत्कालीन जिलाधिकारी, तहसीलदार और एसडीएम पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये लोग यहां से क्या करके गए क्या सीएम को नही पता। उन्होंने कहा भगवान राम की अयोध्या केवल लूटी और छली रही है। ठगने और लूटने का अवैध कारोबार का अड्डा बीजेपी के लोगों ने बना लिया है। अयोध्या धार्मिक नगरी से अवैध कारोबार की नगरी हो गई है। उन्होंने सीएम से मांग की है कि इस अवैध कारोबार पर तुरंत रोक लगाई जाए ।क्योंकि धरती मां के समान है। जिस का अवैध कारोबार ना हो पाए इस बात पर उन्हें ध्यान देना चाहिए।

बीजेपी अवैध कारोबार को दे रही है संरक्षण
कांग्रेस के यूपी मीडिया प्रभारी गौरव तिवारी वीरू ने भी इस पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश और अयोध्या के मन में जो दुख है और जो लोगों की आंखों में आंसू है।  वो सीएम के पीछे खड़े लोगों द्वारा लगाए जा रहे ढहाके ही कारण है। उन्होंने कहा भू- माफियाओं को संरक्षण देने वाली सरकार बीजेपी बन गई है। यह बात सीएम के बयान से साबित होता है। सीएम को जब यह बात पता है कि कौन जमीन खरीद-फरोख्त में शामिल है। तो उस पर कार्रवाई क्यों नहीं करते। उन्होंने कहा केवल अखबार में सख्त कार्रवाई की खबर छप जाने से ही जनता का दुख - दर्द कम नहीं होगा। राम जन्म भूमि का फैसला आने के बाद अयोध्या में जमीनों की अवैध तरीके से खरीद -फरोख्त करने वाले लोग उनके पीछे देखे जा सकते हैं।

गाजियाबाद: पुलिस की पिस्टल छीन फायरिंग करने लगा रिटायर्ड दरोगा के बेटे का कातिल, मुठभेड़ में ऐसे हुआ गिरफ्तार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios