Asianet News HindiAsianet News Hindi

हिंसा में पांच लोगों की मौत, अब यूपीटीईटी स्थगित, 22 को होनी थी परीक्षा


प्रदेश में इंटरनेट सेवाएं बंद होने के कारण यूपीटीईटी के अभ्यर्थी परीक्षा प्रवेश पत्र डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं। अभ्यर्थियों की इस कठिनाई को देखते हुए शासन ने शुक्रवार शाम परीक्षा को स्थगित करने का फैसला किया है।

Citizenship Amendment Act
Author
Lucknow, First Published Dec 20, 2019, 8:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (उत्तर प्रदेश) । नागरिकता संशोधन कानून को लेकर यूपी के 14 जिलों में माहौल फिर खराब हो गया। पुलिस की तमाम सक्रियता के बाद भी ये जिले भयंकर हिंसा की चपेट में हैं। बिजनौर में दो, मेरठ, मुजफ्फरनगर और फिरोजाबाद में एक उपद्रवी की मौत होने की खबर है।वहीं, इंटरनेट सेवाएं बाधिक होने के कारण यूपीटीईटी स्थगित कर दिया गया है।

इसलिए लिया निर्णय
प्रदेश में इंटरनेट सेवाएं बंद होने के कारण यूपीटीईटी के अभ्यर्थी परीक्षा प्रवेश पत्र डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं। अभ्यर्थियों की इस कठिनाई को देखते हुए शासन ने शुक्रवार शाम परीक्षा को स्थगित करने का फैसला किया है।

जल्द होगी तिथि की घोषणा
राज्य सरकार ने 22 दिसंबर को होने वाली उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी) 2019 को स्थगित करने का फैसला किया है। परीक्षा की नई तारीख जल्द घोषित की जाएगी। यह परीक्षा सभी मंडल मुख्यालयों पर आयोजित की जानी थी।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios