Asianet News HindiAsianet News Hindi

आजम खां से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम, बोले- 'उन्होने मुझे खजूर दिया मैने उपहार में गीता'

 रविवार को आजम खान से मिलने सीतापुर जेल में आए थे, लेकिन उनसे नहीं मिल पाए थे। कृष्णम ने कहा कि मैं उनसे मिलने आया था और मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की। मेरी मुलाकात सौहार्दपूर्ण थी और उन्होंने मुझे खाने के लिए खजूर की पेशकश की, मैंने उन्हें गीता उपहार में दी, क्योंकि गीता न्याय की पुस्तक है।

Congress leader Pramod Krishnam who came meet Azam Khan He gave me dates I gifted Gita
Author
Lucknow, First Published Apr 25, 2022, 8:19 PM IST

सीतापुर: उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिला कारागार में बंद समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री आजम खान से सोमवार को कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने मुलाकात की और कहा कि उनके जैसे वरिष्ठ नेता को छोटे-छोटे मामलों में जेल में रखना उत्पीड़न करने और गंभीर अत्याचार के समान है। सपा के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री रविदास मेहरोत्रा भी रविवार को आजम खान से मिलने सीतापुर जेल में आए थे, लेकिन उनसे नहीं मिल पाए थे। कृष्णम ने कहा कि मैं उनसे मिलने आया था और मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की। मेरी मुलाकात सौहार्दपूर्ण थी और उन्होंने मुझे खाने के लिए खजूर की पेशकश की, मैंने उन्हें गीता उपहार में दी, क्योंकि गीता न्याय की पुस्तक है।

हालांकि, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को सीतापुर जेल में आजम खान से मुलाकात की थी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा था कि पार्टी आजम खान के लिए न तो संघर्ष कर रही है और न ही उनकी मदद कर रही है। 

 आजम खान को निशाना बनाकर किया गया प्रताड़ित:  प्रमोद कृष्णम 
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मुलाकात के बाद कहा था कि वह जल्द ही इस मामले को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने रखेंगे। जिला कारागार में सोमवार को आजम खान से मुलाकात के बाद बाहर आने पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने पत्रकारों से कहा कि हम व्यक्तिगत रूप से मानते हैं कि आजम खान को निशाना बनाया गया और प्रताड़ित किया गया। कृष्णम ने कहा, "मुझे विश्वास है कि अदालत के फैसले के बाद वह जल्द ही जेल से बाहर आ जाएंगे।

'बकरी चोरी के मामले में जेल डालना आजम पर अत्याचार'
आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि आजम खान जैसे नेताओं को बकरी चोरी और ऐसे अन्य मामलों में जेल में डालना उन पर बहुत बड़ा अत्याचार है। आचार्य ने कहा, "उनके (भाजपा सरकार) द्वारा किए जा रहे उत्पीड़न का आने वाले दिनों में देश की राजनीति पर असर पड़ेगा।" एक सवाल के जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा कि सपा नेतृत्व भाजपा से लड़ने में सक्षम नहीं है और उसके नेताओं को इसके बारे में सोचने की जरूरत है। कृष्णम ने यह भी कहा, "इस देश में मुस्लिम होना अब एक अपराध है और मेरा मानना है कि आजम खान को निशाना बनाया जा रहा है और प्रताड़ित किया जा रहा है।'' कृष्णम ने कहा, "मैं उनसे मिलने आया था और मैंने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की। मेरी मुलाकात सौहार्दपूर्ण थी और उन्होंने मुझे खाने के लिए खजूर की पेशकश की, मैंने उन्हें गीता उपहार में दी, क्योंकि गीता न्याय की पुस्तक है।"

आचार्य प्रमोद कृष्णम से जब यह पूछा गया कि आजम खान कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं, कृष्णम ने जवाब दिया कि वह आजम और उनके परिवार के शुभचिंतक हैं और आज की बैठक में कुछ भी राजनीतिक नहीं है। प्रमोद कृष्णम ने कहा, "हमारे मुख्यमंत्री संत और द्रष्टा हैं, उनका दिल बड़ा होना चाहिए और उन्हें निष्पक्ष होना चाहिए। उनके नेतृत्व में निर्दोषों के साथ कोई अन्याय नहीं होना चाहिए।" समाजवादी पार्टी के विधायक रविदास मेहरोत्रा ने रविवार को आरोप लगाया था कि उन्हें जेल में खान से मिलने नहीं दिया गया। मेहरोत्रा ने यह भी आरोप लगाया था कि खान को सीतापुर जेल के अंदर मारा जा सकता है। मेहरोत्रा ने जिला जेल के बाहर संवाददाताओं से कहा, "जेल प्रशासन ने मुझे आजम खान से मिलने नहीं दिया और मुझे बताया गया कि वह अस्वस्थ हैं और सो रहे हैं।

'आजम खान पर बहुत जुल्म हुआ है', सीतापुर जेल में बंद सपा नेता से मिले कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम क्या बोले?

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios