लखनऊ (Uttar Pradesh) । कोरोना काल में पहली बार केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) कराई जा रही है। कोरोना की वजह से छह महीने देरी पर ये परीक्षा 31 जनवरी को होने जा रही है, जिसके लिए प्रवेश पत्र भी जारी कर दिया है। लेकिन, इस बार की परीक्षा कई मायने अलग होगी। बताते चले कि इस बार परीक्षा के लिए जारी प्रवेश पत्र के पहले ही कोविड को लेकर दिशा-निर्देश जारी किया गया है। वही, पहली बार परीक्षार्थी को खुद के स्वस्थ होने का घोषणापत्र देने को कहा गया है, जिसका प्रारूप भी प्रवेश पत्र के साथ संलग्न है। जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं।

देना होगा ये घोषणा पत्र
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सभी अभ्यर्थियों के लिए कोविड घोषणापत्र लाना अनिवार्य किया है। अभ्यर्थियों को इस आशय का घोषणापत्र अपने साथ रखना होगा की उन्हें जुकाम, बुखार, सांस लेने में समस्या आदि नहीं है। परीक्षा केंद्र में प्रवेश के समय पूछे जाने पर घोषणापत्र दिखाना होगा। 

जानिए परीक्षा को लेकर जरूरी बातें
-परीक्षा दो पालियों में 9.30 से 12 और 2 से 4.30 बजे तक होगी।
- मास्क लगाना जरूरी है और सेनिटाइजर व पानी की पारदर्शी बोतल ले जाने की अनुमति दी गई है।
- अभ्यर्थियों को केंद्र पर परीक्षा से दो घंटे पहले रिपोर्ट करना है
- परीक्षा शुरू होने के बाद किसी भी स्थिति में प्रवेश नही मिलेगा
- ओएमआर उत्तरपत्रक में व्हाइटनर का उपयोग, ओवरराइटिंग और कटिंग मना है।

एक कमरे में होंगे12 परीक्षार्थी
बताया जा रहा है कि एक कमरे में 12 परीक्षार्थियों के ही बैठने की व्यवस्था की गई है। केंद्रों पर थर्मल स्क्रीनिंग के अलावा अनिवार्य रूप से वीडियोग्राफी कराई जाएगी। इस परीक्षा के लिए 24 जनवरी से 9 मार्च 2020 तक पंजीकरण कराया गया था।