Asianet News HindiAsianet News Hindi

नशे में घर आए पति ने प्रेग्नेंट पत्नी को मार डाला, झाड़ियों में छिपकर यूं बेटे ने बचाई जान

पुलिस ने बच्चे से पूछताछ की तो उसने बताया कि पिता ने झगड़े के बाद मां को गोली मार दी थी। यह देखकर डर गया और भागकर छिप गया था। घटनास्थल पर सरपतहा पुलिस के अलावा सीओ शाहगंज जीतेंद्र दुबे भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आरोपी को तमंचे के साथ गिरफ्तार कर लिया।

Drunk home husband killed pregnant wife, son saved life by hiding in bushes ASA
Author
Jaunpur, First Published May 4, 2020, 4:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जौनपुर (Uttar Pradesh) । लॉकडाउन के बीच नशे में पति ने अपनी ही प्रेग्नेंट पत्नी की हत्या कर दी। मां की चीखपुकार सुनकर सो रहा चार साल का बेटे ने झाड़ियों में छिपकर अपनी जान बचाई। वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे बाहर निकाला। बच्चे को फिलहाल पुलिस ने अपनी निगरानी में रखा है। जांच के दौरान मासूम से हत्या की पूरी कहानी सुनकर पुलिस के भी रौंगटे खड़े हो गए। पुलिस ने आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद कर लिया गया है। दूसरी ओर मृतका के मायके वाले भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। हत्या का कारण पति-पत्नी के बीच विवाद को बताया जा रहा है। यह घटना सरपतहा थाना क्षेत्र के भटौली गांव की है।

यह है पूरा मामला
भटौली गांव निवासी दीपक की पत्नी नेहा (25) गर्भवती थी। दोनों का एक चार वर्ष का बेटा युग भी है। पुलिस के मुताबिक दीपक नशे में धुत होकर घर आया। जिसे लेकर पति-पत्नी में विवाद हुआ। शोर सुनकर पास में सो रहे बेटे की नींद भी खुल गई। इसी दौरान गुस्से में दीपक ने अपने पास मौजूद तमंचा निकाला और नेहा पर गोली चला दी। सिर के पास गोली लगते ही नेहा की मौके पर ही मौत हो गई। यह दृश्य देख रहा बेटा डर के मारे घर के बाहर भाग गया। गोली चलने की आवाज सुन आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और सूचना पुलिस को दी। बेटे को घर में न पाकर लोगों को पहले तो यह लगा कि दीपक ने उसकी भी हत्या कर दी, मगर काफी देर बाद उसे झाड़ियों में छिपा पाया गया।

बेटे ने सुनाई पुलिस को ये कहानी
पुलिस ने बच्चे से पूछताछ की तो उसने बताया कि पिता ने झगड़े के बाद मां को गोली मार दी थी। यह देखकर डर गया और भागकर छिप गया था। घटनास्थल पर सरपतहा पुलिस के अलावा सीओ शाहगंज जीतेंद्र दुबे भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आरोपी को तमंचे के साथ गिरफ्तार कर लिया।

दीपक की प्रताड़ना से छोड़ चुकी थी पहली पत्नी
माता-पिता का इकलौता पुत्र दीपक सिंह मनबढ़ किस्म का है। ग्रामीणों के मुताबिक नेहा से पहले भी उसकी एक पत्नी थी। आए दिन नशे में धुत होकर वह पत्नी की पिटाई करता रहता था। इससे क्षुब्ध होकर शादी के कुछ महीने बाद ही पत्नी ने उसे छोड़ दिया। इसके बाद नेहा से उसकी शादी हुई। नेहा को भी हमेशा मारता-पीटता रहता था।

पांच साल पहले हुई थी नेहा की शादी
भटौली गांव निवासी दीपक का विवाह करीब पांच साल पहले आजमगढ़ के पवई थाना क्षेत्र के सिरजहांपुर निवासी हरिश्चंद्र सिंह की बेटी नेहा के साथ हुआ था। दोनों का एक चार वर्ष का बेटा युग भी है। सूचना पर मृतका के मायके वाले भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। हत्या का कारण पति-पत्नी के बीच विवाद को बताया जा रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios