Asianet News Hindi

कोरोना के कारण चर्चा में आया यूपी का यह गांव, महिला प्रधान को PM मोदी ने किया सैल्यूट

महिला प्रधान कोरोना संकट में सक्रिय रूप से काम कर रही हैं। ग्राम पंचायत में तीन बार दवा का छिड़काव करवाया है। गांवों को सैनीटाइजेशन करवाया है। इस ग्राम पंचायत में 500 लोगों को मास्क वितरण किया गया, जबकि हर घर में साबुन और सैनीटाइजेशन मुहैया करवाया गया है।

Due to Corona, this village of UP came into the discussion, PM Modi Salute the female head asa
Author
Basti, First Published Apr 25, 2020, 11:32 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बस्ती (Uttar Pradesh)। एक गांव पूरे देश में चर्चा का विषय बन गया है। दरअसल इस गांव की महिला प्रधान को खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र नरेंद्र मोदी ने सैल्यूट किया है। पीएम देश की ग्राम पंचायतों के प्रधानों और सरपंचों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मुखातिब थे, तब उन्होंने नकटी देई बुजुर्ग ग्राम पंचायत की महिला प्रधान वर्षा सिंह से बातचीत की थी। प्रधानमंत्री ने न केवल वर्षा सिंह के कार्यों के बारे जाना, बल्कि उन्होंने ग्राम प्रधान की सराहना की। बता दें कि इस गांव की महिला ग्राम प्रधान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आह्वान पर कोरोना से अपने गांव को मुक्त रखने के लिए सीएम की टीम-11 की तर्ज पर कार्य कर रही हैं। इस समय गांव में सैनिटाइज से लेकर हर सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

यह हुई पीएम और प्रधान की बातचीत
पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधान वर्षा सिंह से कहा कि ये बताइए पहले लोग कहते थे कि दिल्ली (केंद्र) से एक रुपए चलता है तो केवल 15 पैसा ही गांव तक पहुंचता। आज 1 रुपए निकलता है तो 100 के 100 पैसे लाभार्थी के खाते में जमा हो जाता है। पीएम मोदी ने वर्षा सिंह से पूछा कि अब जब गांव में लोगों के पास पूरा पैसा पहुंचता है तो कैसा महसूस करते हैं। इस पर प्रधान वर्षा सिंह ने कहा कि गांव के लोग बहुत ही संतुष्ट हैं। लोग कहते हैं कि जब से ये सरकार आई है तो तमाम सुविधाएं मिल पा रही हैं। वर्षा सिंह ने कहा कि गांव में चर्चा हो रही है और सोशल मीडिया में भी कि इस कोरोना के संकट की घड़ी में अगर आप जैसे प्रधानमंत्री नहीं होते तो इस देश का क्या होता? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बस, हम सब को दो गज की दूरी ही बचाएगी।

इसलिए पीएम ने की बात
बस्ती जिले के कप्तानगंज विकासखंड में पड़ते ग्राम पंचायत नकटी देई बुजुर्ग में महिला ग्राम प्रधान वर्षा सिंह कोरोना से जंग लड़ रही हैं। उनके गांव में जिन गरीब और घुमंतू परिवारों का राशन कार्ड नहीं था, उन्हें भी राशन की व्यवस्था की गई है। अति गरीब परिवारों को राशन के मुहैया करवाने के साथ-साथ सब्जी और अऩ्य जरूरी आवश्यकताओं की पूरी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही उज्जवला योजना, श्रम विभाग के लाभार्थियों, पीएम किसान सम्मान निधि और जनधन योजना के पात्र महिला लाभार्थियों की सहायता की गई है।

गांव में है सभी सुविधाएं
बस्ती जिले के कप्तानगंज विकासखंड में पड़ते ग्राम पंचायत नकटी देई बुजुर्ग में महिला ग्राम प्रधान वर्षा सिंह कोरोना संकट में सक्रिय रूप से काम कर रही हैं। अपने ग्राम पंचायत में तीन बार दवा का छिड़काव करवाया है। गांवों को सैनीटाइजेशन करवाया है। इस ग्राम पंचायत में 500 लोगों को मास्क वितरण किया गया, जबकि हर घर में साबुन और सैनीटाइजेशन मुहैया करवाया गया है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios