बांदा (Uttar Pradesh) । लॉकडाउन के दौरान 40 दिन बाद शराब की दुकानें खुली। दो युवकों ने लिमिट से ज्यादा शराब पीकर हंगामा करना शुरू कर दिया, जब वे हद से आगे बढ़ गए तो पड़ोसी बुजुर्ग ने मना कर दिया। इससे नाराज दोनों युवकों ने बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद आनन-फानन में फरार हो गए। यह मामला पैलानी थाना क्षेत्र के निराईच गांव का है।

यह है पूरा मामला
निवाईच गांव में दो युवक अपने घर के सामने बैठकर शराब पी रहे थे। दोनों अपशब्द बोल रहे थे। पड़ोसी बहोरी लाल (50) ने काफी देर तक शोर सुनकर भी उसे अनसुना किया। लेकिन, जब शराबियों की हदें पार होने लगी तो उन्हें शांत होने की बात कही, जो युवकों को नागवार गुजरी और बुजुर्ग पर फायर झोंक दिया। जिससे बहोरी गंभीर रुप से जख्मी हो गए। वहीं, वारदात के बाद आरोपी फरार हो गए।

अस्पताल में हुई मौत
फायरिंग की आवाज सुनकर परिजन मौके पर पहुंचे। गांव वालों की भीड़ जुट गई। आनन-फानन में बुजुर्ग को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। लेकिन, इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं, सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही मामला दर्ज करते हुए फरार आरोपियों की तलाश शुरू की है। अपर पुलिस अधीक्षक लाल भरत कुमार पाल का कहना है कि मामले को दर्ज कर लिया गया है। दोनों युवकों की तलाश जारी है। दोनों पर जल्द से जल्द कड़ी कार्रवाई की जाएगी।