Asianet News HindiAsianet News Hindi

मरकजी मस्जिद में मिले विदेशी नागरिक, किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के हैं निवासी

पुलिस प्रशासन दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आयोजन में शामिल हुए लोगों की तलाश कर रहा है। सूचना मिली थी कि तब्लीगी जमात में लखनऊ के 20 लोग शामिल हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार पता चला है कि ये 20 लोग अभी तक लखनऊ नहीं लौटे हैं, ये अभी नई दिल्ली में ही हैं।

Foreign nationals found in Markazi Mosque, are residents of Kyrgyzstan and Kazakhstan asa
Author
Lucknow, First Published Mar 31, 2020, 2:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh)। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आयोजन में शामिल हुए 157 लोगों की तलाश तेज हो गई कर रहा है। लॉक डाउन के बीच कैसरबाग इलाके में स्थित एक मरकजी मस्जिद में पुलिस कमिश्नर, कमिश्नर और डीएम पहुंचे हैं। अफसरों को खबर मिली है कि मरकजी मस्जिद में पिछले 13 मार्च से कई विदेशी नागरिक रुके हुए हैं, जो किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के नागरिक बताए जा रहे हैं। खुफिया तंत्र की सूचना के बाद अधिकारी मस्जिद पहुंचे हैं। बताया जा रहा है कि ये विदेशी नागरिक एक धार्मिक जलसे में भाग लेने आए थे।

17 बांग्लादेशी नागरिकों के भी होने की सूचना
खबर है कि यहां से 3 से 6 लोग मिले हैं। सभी विदेशी नागरिकों की मेडिकल जांच कराई जा रही है। इन्हें आइसोलेशन में रखा जा रहा है। यही नहीं मड़ियांव की मस्जिद में 17 बांग्लादेशी नागरिकों के रुके होने की सूचना है। 

लखनऊ नहीं आए सभी लोग
पुलिस प्रशासन दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज के आयोजन में शामिल हुए लोगों की तलाश कर रहा है। सूचना मिली थी कि तब्लीगी जमात में लखनऊ के 20 लोग शामिल हुए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार पता चला है कि ये 20 लोग अभी तक लखनऊ नहीं लौटे हैं, ये अभी नई दिल्ली में ही हैं।

प्रयागराज और प्रतापगढ़ से भी गए हैं लोग
प्रयागराज मंडल से भी 11 लोगों शामिल होने की सूचना थी। इनमें 8 प्रयागराज और 3 लोग प्रतापगढ़ से शामिल हुए थे। आईजी जोन प्रयागराज केपी सिंह ने एलआईयू जांच में पाया है कि सभी लोग जमात के बाद से दिल्ली में ही ठहरे हुए हैं। उन्होंने कहा है कि जमात में शामिल लोगों के यहां न आने से कोरोना का फिलहाल कोई खतरा नहीं है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios