Asianet News HindiAsianet News Hindi

यूपी के गोंडा में अंतिम संस्कार से ठीक पहले आए एक फोन से परिवार में मचा हड़कंप, जानिए किसका था वो कॉल

गोंडा जनपद में महिला के बदले परिजनों को पुरुष की डेडबॉडी देने का मामला सामने आया है। इसके बाद अफरा-तफरी का माहौल देखा गया। आनन-फानन में उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद शव को वापस मंगा महिला की डेडबॉडी दी गई। 

Gonda man dead body insted of woman in gonda postmortem house dispute
Author
Gonda, First Published Apr 25, 2022, 10:12 AM IST

गोंडा: कर्नलगंज में पोस्टमार्टम हाउस में डेडबॉडी बदलने का मामला सामने आया। इसके बाद परिजन और अधिकारियों में हड़कंप मच गया। दरअसल यहां एक महिला की मौत मारपीट के दौरान हो गई थी। उसी डेडबॉडी को पोस्टमार्टम हाउस भेजा गया। यहां शव परिजनों को मिला तो हंगामा शुरु हो गया। परिजनों का आरोप था कि शव महिला का नहीं बल्कि पुरुष का है। मौके पर कर्मचारियों और पुलिस को लेकर नाराजगी देखने को मिली। मामले में सीएमओ की ओर से जांच के आदेश दिए गए। सीएमओ राधेश्याम केसरी की ओर से बताया गया कि पोस्टमार्टम हाउस में डेडबॉडी बदलने की शिकायत सामने आई है। जिसके बाद मामले में जांच के निर्देश दिए गए हैं। दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

यह पूरा मामला कर्नलगंज के गांव गुरसड़ी का बताया जा रहा है। जहां 40 वर्षीय रीता देवी की मौत मारपीट के बाद हो गई थी। उनके सिर पर ईंट से हमला किया गया था। इसके बाद उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया और अगले दिन रात में उनकी मौत हो गई। परिजन उनका पोस्टमार्टम कराने के लिए पहुंचे हुए थे। 

क्या था पूरा मामला
मृतका रीता देवी के पति सुरेश कुमार ने जानकारी दी कि रविवार को शाम 4-5 के बीच मृतक रीता का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद डेडबॉडी दी गई। सभी लोग डेडबॉडी लेकर गुरसड़ी आ गए। इसी बीच एक घंटे बाद फोन आता है कि शव को को पुनः पोस्टमार्टम हाउस लाया जाए। जो आपके पास डेडबॉडी है वह पुरुष की है। उसे वापस कर महिला का शव ले जाए। इतनी बात सुनकर सभी के होश उड़ जाते हैं। आनन-फानन में सभी लोग फिर से पोस्टमार्टम हाउस की ओर भाग खड़े होते हैं। 

कराया गया अंतिम संस्कार 
महिला का अंतिम संस्कार करवा दिया गया है। दरअसल पोस्टमार्टम के बाद महिला का शव न देकर अज्ञात का शव परिजनों को दे दिया गया था जिसके बाद लोगों की नाराजगी सामने आई। परिजनों द्वारा शव लाए जाने के बाद उन्हें महिला का शव रिसीव कराया गा इसके बाद देर शाम उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद शव का अंतिम संस्कार हुआ। 

गोरखपुर: जेल से जिला अस्पताल लाया गया मुर्तजा, घाव को देख डॉक्टर ने कही ये बात

BJP सांसद साक्षी महाराज ने फेसबुक में दिए सुरक्षा के उपाय, बोले- पुलिस बचाने नहीं आएगी, घर में रखें तीर कमान

लखीमपुर खीरी हिंसा: जेल में बेचैनी से कटी आशीष मिश्रा की पहली रात, पहले 7 दिन इस नियम का करना होगा पालन

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios