Asianet News HindiAsianet News Hindi

स्वतंत्रता दिवस पर खुले रहेंगे सरकारी, गैर सरकारी ऑफिस व शिक्षण संस्थान, मुख्य सचिव ने जारी किए ये निर्देश

मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्रा ने हर घर तिरंगा कार्यक्रम में लोगों से अपने घरों पर तिरंगा फहराकर तिरंगे के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर अपलोड करने के साथ-साथ सरकारी, गैर सरकारी दफ्तर व शिक्षण संस्थानों के खुले रहने को लेकर निर्देश जारी किए है।

Government non government offices and educational institutions remain open Independence Day Chief Secretary issued instructions
Author
Lucknow, First Published Aug 9, 2022, 8:14 AM IST

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवसी की 75वीं वर्षगांठ पर 15 अगस्त को सुबह आठ बजे सभी सरकारी, गैर सरकारी दफ्तरों पर खादी निर्मित राष्ट्रीय झंडे का ध्वाजारोहण किया जाएगा। इस दिन सभी सरकारी व गैर सरकारी कार्यालय, शिक्षण संस्थान, औद्योगिक एवं वाणिज्यिक प्रतिष्ठान खुले रहेंगे। स्वाधीनता दिवस लेकर चल रहे मुहिम पर मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्रा ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा है कि सोमवार को 11 से 17 अगस्त तक स्वतंत्रता सप्ताह और 13 से 15 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम को आयोजित किया जाएगा।

तिरंगे के साथ पोस्ट करें सेल्फी, प्रतियोगिताओं का हो आयोजन
दुर्गाशंकर मिश्रा ने सभी शिक्षण संस्थाओं में राष्ट्रगान का सामूहिक गायन कराने, शहीद देशभक्तों के जीवन के प्रेरक-प्रसंग सुनाने, विद्यार्थियों को स्वतंत्रता-संग्राम का इतिहास बताने के निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने 15 अगस्त के दिन देशप्रेम की भावना जागृत करने वाले नाटक, विचार-गोष्ठी, वाद-विवाद प्रतियोगिता, प्रदर्शनी, निबंध-लेखन से संबंधित प्रतियोगिताएं भी कराने को कहा है। मुख्य सचिव ने स्वतंत्रता दिवस से दो दिन पहले युवक मंगल दलों व महिला मंगल दलों की ओर से अमृत मिनी मैराथन का आयोजन करने के निर्देश दिए है। इसके अलावा हर तिरंगा कार्यक्रम में  लोगों ने अपने घरों पर तिरंगा फहराकर तिरंगे के साथ सेल्फी लेकर सोशल मीडिया और संस्कृति विभाग के सेल्फी पोर्टल पर अपलोड करने का आह्वान किया है।

स्वतंत्रता सप्ताह में सरकारी भवनों पर होगी तिरंगा लाइटिंग
मुख्य सचिव ने स्वतंत्रता सप्ताह में सरकारी कार्यालयों, भवनों एवं स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े ऐतिहासिक स्मारकों पर तिरंगा लाइटिंग कराने के निर्देश दिए। स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े स्थलों पर पुलिस बैंड का वादन कराने, कवि सम्मेलन एवं जनसहभागिता से प्रेक्षागृहों व शैक्षणिक संस्थाओं में सांस्कृतिक आयोजन कराने के निर्देश दिए। उन्होंने इस आयोजनों में स्वाधीनता संग्राम सेनानी, उनके आश्रितों, सेना अथवा पुलिस बल के शहीदों के परिवार के सदस्यों को भी आमंत्रित करने को कहा है। साथ ही उन्होंने प्रत्येक कृषि विज्ञान केंद्र पर न्यूनतम 75 किसानों को पौधे व तिरंगे भेंट करने, अमृत सरोवरों पर ध्वजारोहण व पौधरोपण, प्रकाश व्यवस्था, स्वाधीनता संग्राम के महत्व पर संगोष्ठी तथा देशभक्ति के विविध कार्यक्रम कराने के निर्देश दिए हैं।

'तीन दिन के अंदर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बम से उड़ा देंगे', पुलिस के उड़े होश

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios