Asianet News HindiAsianet News Hindi

पत्नी ने नहीं मानी बात तो दी खौफनाक सजा, देखकर चीख पड़ी बेटियां

उजियारी पुरवा गांव निवासी गणेश निषाद दर्जी है। पास की बाजार में उसकी दुकान है। पांच वर्ष पूर्व गणेश की पहली पत्नी सुनीता की मौत हो गई थी। सुनीता से उसे तीन बेटियां और एक बेटा है। बच्चों की परवरिश और देखभाल को लेकर उसने सुखऊ पुरवा गांव निवासी उमा देवी से कोर्ट मैरिज कर ली थी। इसके बाद उमा उसके साथ रहने लगी थी और बच्चों की देखभाल करती थी।

If the wife did not listen, the drunken husband put them to death in front of the children ASA
Author
Kanpur, First Published Mar 24, 2020, 6:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर (Uttar Pradesh)। बात न मानने पर खाना पका रही पत्नी की नशे में धुत पति ने हत्या कर दी। इस वारदात को उसने अपने बेटियों के सामने ही अंजाम दिया। जिसे देख वो चीख पड़ी। वहीं, पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि वह पत्नी से अपने मायके वालों से डेढ़ लाख रुपए दिलवाने की मांग कर रहा था, जिसे लेकर दोनों में विवाद हो गया था। यह घटना नवाबगंज थाना क्षेत्र के उजियारी पुरवा गांव में आज हुई।

यह है पूरा मामला
उजियारी पुरवा गांव निवासी गणेश निषाद दर्जी है। आए दिन शराब पीकर घर आता था। पत्नी उमा से दहेज की मांग करता। कुछ समय पहले उमा के पिता रज्जन ने उसे ढाई लाख रुपए दुकान के लिए दिए थे। इसके बाद वह डेढ़ लाख रुपए और मांग रहा था। आज दोपहर खाना खाने के बाद उसने उमा से मायके से रुपये लाने को कहा। इसपर दोनों में झगड़ा हो गया। इसके बाद उसने पास पड़ी ईंट से उमा के सिर पर ताबड़तोड़ वार करके हत्या कर दी। 

बच्चों के सामन किया हत्या
घटना के समय खुशबू और शिवानी खाना बना रही थी। पापा को मां पर हमला करते देखकर बेटियां चीखने लगीं और पड़ोसी चाचा को जानकारी दी। इस बीच गणेश भाग निकला। पड़ोसियों की सूचना पर पुलिस पहुंची लेकिन तबतक उमा की मौत हो चुकी थी। स्वरूप नगर सीओ अजीत सिंह चौहान ने बताया कि मौके पर खून के सनी ईंट बरामद करके आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

पत्नी की मौत के बाद की थी कोर्ट मैरिज
उजियारी पुरवा गांव निवासी गणेश निषाद दर्जी है। पास की बाजार में उसकी दुकान है। पांच वर्ष पूर्व गणेश की पहली पत्नी सुनीता की मौत हो गई थी। सुनीता से उसे तीन बेटियां और एक बेटा है। बच्चों की परवरिश और देखभाल को लेकर उसने सुखऊ पुरवा गांव निवासी उमा देवी से कोर्ट मैरिज कर ली थी। इसके बाद उमा उसके साथ रहने लगी थी और बच्चों की देखभाल करती थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios