Asianet News HindiAsianet News Hindi

जांच में हुआ खुलासा-पीएनबी में पहले भी टूट चुके हैं लाकर, एडीसीपी ने मांगा रिकार्ड

पंजाब नेशनल बैंक की निराला नगर शाखा से लाकर से जेवर चोरी मामले में बड़ा खुलासा हुआ। एडीसीपी जब जांच के लिए बैंक पहुंचे तो पता लगा कि पहले भी कई बार निष्प्रयोज लाकर तोड़े जा चुके हैं। जिसके बाद मामले में एडीसीपी ने बीते 5 सालों का रिकार्ड मांगा है।

kanpur adcp investigate jewelry theft case of punjab national bank locker
Author
Kanpur, First Published Apr 30, 2022, 12:19 PM IST

कानपुर: पंजाब नेशनल बैंक की निराला नगर शाखा के लॉकर से 15 लाख के जेवर चोरी के मामले में एडीसीपी बैंक पहुंचे। जहां प्रबंधक से इसको लेकर पूछताछ की गई। पता चला कि इससे पहले भी कई बार निष्पयोज लाकर तोड़े गए हैं। जिसके बाद मामले में एडीसीपी की ओर से पांच सालों के रिकॉर्ड मांगे गए। इसी के साथ मामले की जांच एसीपी बाबूपुरवा को सौंपी। 

लाकर से गायब मिले जेवर

राजेश मिश्रा निवासी जूही बारादेवी एक अस्पताल में चीफ अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत हैं। उनका पत्नी शकुंतला के साथ पंजाब नेशनल बैंक की निराला नगर शाखा में संयुक्त लाकर है। इस लाकर की संख्या 49 है। वह अपने बच्चों, पत्नी के कीमती जेवर उसी में रखते हैं। जनवरी में जब उनके बेटे का निधन हो गया तो उसके बाद वह मंगलवार को दूसरे बेटे औऱ पौत्र के साथ जेवर लाकर से निकालने पहुंचे। इस बीच लॉकर में जेवर नहीं मिले। उन्होंने इस प्रकरण को लेकर किदवई नगर थाने में तहरीर दी। इसके बाद एडीसीपी मनीषचंद्र सोनकर औऱ पुलिस के अन्य अधिकारी बैंक पहुंचे। जहां प्रबंधक से इस मामले में पूछताछ की गई। 

5 वर्षों से नहीं खुला था लाकर

मामले में प्रबंधक की ओर से जानकारी दी गई कि लाकर पांच वर्ष से नहीं खुला था। इससे पहले भी कई बार निष्प्रयोग लाकर तोड़े जा चुके हैं। इसके बाद एडीसीपी ने मामले में पांच साल में निष्प्रयोज तोड़े गए लाकर को लेकर जानकारी मांगी। इसी के साथ सवाल किया कि लाकर कब और कितनी बार तोड़े गए हैं। इसको लेकर भी रिकॉर्ड मांगा गया है। मामले में प्रबंधक ने सोमवार तक का समय मांगा है। 

बैंक के लॉकर से गायब हुई ज्वैलरी, गलती छिपाने के लिए मैनेजर ने ग्राहकों को दी ये नसीहत

एसटीएफ और बस्ती पुलिस ने किया अपहृत व्यापारी पुत्र को बरामद, बचने के लिए बदमाशों ने अपनाया था ये पैंतरा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios