Asianet News HindiAsianet News Hindi

कानपुर एनकाउंटर: विकास दुबे पर दो गुना किया गया इनाम, इनोवा से हुआ था फरार, पूरे परिवार का फोन साथ ले गया

गैगेस्टर विकास दुबे को पुलिस दबिश की जानकारी काफी पहले हो चुकी थी। उसे शक था कि कहीं पुलिस एनकाउंटर करके उनको मार न दे, इसलिए उसने गुरुवार को ही अपने कई परिचितों को घर पर हथियारों के साथ बुला लिया था। जांच कर रही पुलिस ने आरोपी विकास दुबे के जानने वाले असलहाधारी लोगों के यहां छापेमारी की है। हालांकि ज्यादातर लोग फरार हैं।
 

Kanpur Shootout: Vikas Dubey's reward doubled, Vikas Dubey absconded, took phone with family asa
Author
Kanpur, First Published Jul 5, 2020, 9:46 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर (Kanpur) ।  कानपुर मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मियों की मौत के जिम्मेदार कुख्यात अपराधी विकास दुबे की जानकारी जो देगा, उसे अब 50 हजार रुपये नहीं एक लाख का इनाम दिया जाएगा। पुलिस ने इस अपराधी पर इनाम डबल कर दिया है। वहीं, जांच में ये बातें सामने आ रही है कि गैंगस्टर विकास दुबे कानपुर गोलीकांड के बाद अपने साथियों के साथ इनोवा कार से फरार हो गया था। हालांकि यूपी पुलिस उसकी तलाश में जगह-जगह छापेमारी रही है। उसके खिलाफ 50 हजार का इनाम भी जारी किया गया है। बता दें कि इस मामले में कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया गया है।

Kanpur Shootout: Vikas Dubey's reward doubled, Vikas Dubey absconded, took phone with family asa

घटना के बाद पांच लोगों के साथ करीबी के घर गया था विकास
विकास दुबे घटना के बाद कानपुर देहात में ही अपने करीबी के यहां इनोवा कार से 5 लोगों के साथ पहुंचा था। विकास अपने इस करीबी और उसके परिवार के सभी सदस्यों के फोन को स्विच ऑफ कराकर अपने साथ ले गया। वह अपने करीबी के घर पर कुछ देर रुकने के बाद निकल गया था। 

Kanpur Shootout: Vikas Dubey's reward doubled, Vikas Dubey absconded, took phone with family asa

सोशल मीडिया पर विरोध करने वालों पर केस दर्ज
फेसबुक पर विकास दुबे के पक्ष में और पुलिसकर्मियों की हत्या को सही ठहराने वालों पर ये केस दर्ज हुआ है। ये केस कानपुर के फजलगंज थाने में दर्ज हुई है। इस बीच, ये भी खबर आ रही है कि कानपुर में दबिश की खबर मिलने पर विकास दुबे ने पुलिस को धमकी भिजवाई थी।

Kanpur Shootout: Vikas Dubey's reward doubled, Vikas Dubey absconded, took phone with family asa

एनकाउंटर में मारे जाने का था डर
गैगेस्टर विकास दुबे को पुलिस दबिश की जानकारी काफी पहले हो चुकी थी। उसे शक था कि कहीं पुलिस एनकाउंटर करके उनको मार न दे, इसलिए उसने गुरुवार को ही अपने कई परिचितों को घर पर हथियारों के साथ बुला लिया था। जांच कर रही पुलिस ने आरोपी विकास दुबे के जानने वाले असलहाधारी लोगों के यहां छापेमारी की है। हालांकि ज्यादातर लोग फरार हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios