Asianet News Hindi

तब्लीगी जमात के लोगों ने बढ़ाया यूपी में Covid-19 का ग्राफ, 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन खुलने की संभावनाएं कम

उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए योगी सरकार लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे भी बढ़ा सकती है। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए इसके संकेत दिए

lockdown can be extend in up kpl
Author
Lucknow, First Published Apr 6, 2020, 5:59 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh). उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए योगी सरकार लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे भी बढ़ा सकती है। अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए इसके संकेत दिए। अवनीश अवस्थी ने कहा कि जिस तरह से तबलीगी जमात में शामिल लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हो रही है उससे प्रदेश में मरीजों की संख्या में अचानक इजाफा हुआ है। उन्होंने साफ़ किया कि अगर हालात ऐसे ही रहे तो लॉकडाउन और आगे बढ़ाया जा सकता है। 

मीडिया से बात करते हुए अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि सोमवार शाम चार बजे तक यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 305 हैं। इनमें से 159 लोग वे हैं जिन्होंने दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में हुए आयोजन में हिस्सा लिया था। उन्होंने कहा कि जिस तरह से तबलीगी जमात से जुड़े लोगों में कोरोना की पुष्टि हो रही है, उससे लॉकडाउन 14 अप्रैल के बाद हटाना संभव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अब जमात से जुड़े जिन लोगों में संक्रमण पाया गया है उनके संपर्क में आने वाले लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। 

आगे बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन 
अपर मुख्य सचिव ने कहा कि अगर एक भी व्यक्ति संक्रमित है तो ऐसी स्थिति में लॉकडाउन खोलना संभव नहीं होगा। अभी मामला बेहद संवेदनशील है और सर्तकता बरती जा रही है। तबलीगी जमात से जुड़े लोगों की वजह से ही कई जिलों में संक्रमण फैला है। सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज आगरा में मिले हैं। उसके बाद मेरठ, सहारनपुर, आजमगढ़, लखनऊ, बाराबंकी, शामली, गाजियाबाद आदि जिले हैं। छोटे जिलों तक भी जमात के लोगों ने संक्रमण फैला दिया है। सरकार अपनी तरफ से सभी को ट्रेस करने का पूरा प्रयास कर रही है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios