Asianet News Hindi

आगरा में सब्जी व दूध बेचने से पहले लेनी होगी परमिशन, जानें क्यों करना पड़ेगा ऐसा

आगरा में अब दूध व सब्जी बेंचने के लिए भी परमीशन की आवश्यकता होगी।  रविवार को हुई जांच के दौरान जिले के दो सब्जी विक्रेताओं में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

permission to be taken before selling vegetables and milk in Agra kpl
Author
Agra, First Published Apr 20, 2020, 11:09 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आगरा(Uttar Pradesh ). उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या 1100 के पार हो गई है। सूबे के सबसे बड़े कोरोना हॉटस्पॉट आगरा में  तेजी से बढ़ती कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए वहां सख्ती बढ़ा दी गई है। आगरा में अब दूध व सब्जी बेंचने के लिए भी परमीशन की आवश्यकता होगी।  रविवार को हुई जांच के दौरान जिले के दो सब्जी विक्रेताओं में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। यही वजह है कि दूध व सब्जी विक्रेताओं को अब विक्रय के पहले प्रशासन से अनुमति लेनी होगी। 

रविवार को ताजनगरी आगरा के फ्रीगंज इलाके में एक सब्जी बेचने वाले में कोरोना की पुष्टि हुई थी। इसके बाद इस विक्रेता के इलाके चमन लाल बाड़ा को सील कर दिया गया। इस इलाके के तकरीबन 2000 लोगों को होम क्वारंटाइन कर दिया गया। इसके बाद देर रात एक और सब्जी विक्रेता में संक्रमण की पुष्टि हुई। ये सब्जी विक्रेता विजय नगर क्षेत्र का रहने वाला है। उसके बाद जिला प्रशासन ने बिना अनुमति के सब्जी या दूध बेंचने पर प्रतिबंध लगा दिया। प्रशासन की ओर से ये भी ऐलान किया गया है कि बिना अनुमति के सब्जी या दूध बेचने वालों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज होगी। 

सूबे में सबसे ज्यादा कोरोना मरीज आगरा में 
आगरा में अब तक 255 लोग कोरोना पाजिटिव हुए हैं। लगातार ये संख्या भी बढ़ती जा रही है। आगरा के 255 मरीजों में से 92 लोग तबलीगी जमात से जुड़े हैं या फिर उनके संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। अब तक जिले में 6 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है, जबकि 18 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios