Asianet News HindiAsianet News Hindi

पुलिस को गुमराह कर हिंसा कर रहे दंगाई, कानपुर में पहले दिया फूल फिर शुरू कर दिया पथराव

CAA को लेकर प्रदर्शन जारी है। यूपी के कानपुर में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया है। भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज भी करनी पड़ी

protesters set fire to police post in kanpur kpl
Author
Kanpur, First Published Dec 21, 2019, 6:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कानपुर(Uttar Pradesh ). CAA को लेकर प्रदर्शन जारी है। यूपी के कानपुर में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया है। भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज भी करनी पड़ी। पुलिस  मशक्कत के बाद लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया। दंगाइयों ने पुलिस को गुमराह  करते हुए पथराव किया। 

CAA के विरोध को लेकर कानपुर में फिर से हिंसा भड़क उठी। शाम होते-होते इलाके में फिर से माहौल बिगड़ गया। यतीमखाना में जुलूस निकाला गया। इस दौरान भारी संख्या में मौजूद प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी छोड़े। इसमें 12 से अधिक लोगों के घायल होने की जानकारी है। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने छतों से पुलिस पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए।

पहले दिए फूल फिर शुरू कर दिया पथराव 
कानपुर के यतीमखाना पर पहले तो प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिसवालों को गुलाब के फूल दिए गए। इसके थोड़ी देर बाद ही उन पर पथराव शुरू हो गया। राहगीर जान बचाकर भागे। पुलिस उन्हें बचाने के बजाय खुद बचने के लिए भागती नजर आई। नमाज अदा होने से पहले 1:20 बजे एडीजी फोर्स के  साथ मार्च करते हुए यतीमखाना मस्जिद की तरफ जायजा लेने पहुंचे। नमाज के बाद एसपी पूर्वी यतीमखाना की तरफ आए, तो उनके पीछे कुछ लोग गुलाब के फूलों से भरा थैला लेकर आए। उन लोगों ने पुलिसवालों को गुलाब के फूल देकर अमन और शांति का भरोसा दिलाया। 

बच्चों को ढाल बनाकर पथराव 
दंगाइयों ने बच्चों को ढाल बनाते हुए पुलिस पर पथराव किया। दंगाइयों ने बच्चों को आगे किया और उनके पीछे रहकर पथराव कर आगजनी की। यही वजह रही कि पुलिस को कार्रवाई करने में थोड़ी मुश्किल हुई। जब बच्चे किसी तरह से हटे तब पुलिस ने लाठी भांजी, आंसू गैस के गोले दागे।

रामपुर में भड़की हिंसा पुलिस की गाड़ी फूंकी 
वहीं रामपुर में प्रशासन से अनुमति नहीं मिलने के बावजूद उलेमाओं ने बंद बुलाया। इस दौरान हजारों की संख्या में नागरिकता कानून का विरोध करने के लिए लोग सड़कों पर उतर आए। इदगाह के पास इकट्ठा होकर लोगों ने जमकर नारेबाजी की। इस दौरान पुलिस और भीड़ बिल्कुल आमने सामने हो गई। प्रदर्शन के दौरान भीड़ इतनी उग्र हो गई कि उन्होंने एक पुलिस जीप के अलावा आठ अन्य वाहनों को भी फूंक दिया। इस हिंसक प्रदर्शन के दौरान एक शख्स की मौत हो गई।  पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए लाठियां भांजी। काफी देर तक भीड़ और पुलिस के बीच झड़प चलती रही। भीड़ ने बैरीकेडिंग तोड़ दी, वहीं पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायरिंग भी की। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios