Asianet News HindiAsianet News Hindi

104 लोगों की मौत का था आरोप, रेनू शर्मा की अलीगढ़ जेल में मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

जहरीली शराब से 104 लोगों की मौत के मामले में जेल भेजी गईं मुख्य आरोपियों में शामिल ऋषि शर्मा की पत्नी पूर्व ब्लॉक प्रमुख रेनू शर्मा की शुक्रवार रात मौत हो गई। बीमारी के चलते उन्हें हालत बिगड़ने पर जेएन मेडिकल कॉलेज लाया गया था। मौके पहुंचे परिजनों ने जेल प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। 

Renu Sharma s death in Aligarh Jail was accused of killing 104 people her family members accused of murder
Author
Lucknow, First Published Dec 4, 2021, 2:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अलीगढ़: उत्‍तर प्रदेश (Uttar pradesh) के जनपद अलीगढ़ के लोधा का गांव करसुआ और जवां के छेरत में 28 मई की सुबह जहरीली शराब (alcohol) से मौतों का सिलसिला शुरू हुआ था। जिसके चलते घटना के कुछ दिन बाद ही मुख्य आरोपियों में शामिल ऋषि शर्मा की पत्नी पूर्व ब्लॉक प्रमुख रेनू शर्मा को गिरफ्तार (Arrest) कर जेल भेज दिया गया था। उस वक्त वह गंभीर बीमारी से पीड़ित थीं। आपको बता दें लंबे समय से वह बीमार चल रही थीं। इसी आधार पर हाईकोर्ट (High Court) ने उनकी जमानत अर्जी मंजूर की थी। जमानतियों के सत्यापन जारी थी। जल्द ही रेनू की रिहाई (release) होने वाली थी। लेकिन, देररात तबीयत बिगड़ने के चलते उन्हें जेल से जेएन मेडिकल कालेज (JN Medical College) ले जाया गया, जहां मौत हो गई। देररात लोगों ने हंगामा भी किया। आरोप था कि जमानत होने के बाद भी रेनू की रिहाई नहीं की गई। शनिवार सुबह भाजपा (BJP) विधायक दलवीर सिंह जेनए मेडिकल डॉक्टर पहुंच गए। साथ ही रेनू के पति व बेटे को पैरोल पर छोड़ने की मांग करने लगे। इसके अलावा विनय भारद्धाज ने अपनी मां के अंतिम संस्‍कार के लिए पिता ऋषि शर्मा व भाई कुनाल शर्मा को पेरोल पर छोड़ने की मांग डीएम व एसएसपी से की है।

बेटे ने लगाया साजिशन हत्या का आरोप 
बेटे का आरोप है कि मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर ने उन्हें जानकारी दी है कि उन्हें मृत अवस्था में ही लाया गया था। साथ ही मुंह से झाग निकल रहा था, जिससे साफ पता चलता है कि उन्हें जानबूझकर मारने की साजिश रची गई थी। बेटे के अनुसार, उनकी मां की जमानत मंजूर हो गई थी। शुक्रवार को रिहाई होना तय था। मगर एक जमानती का पुलिस ने जानबूझकर सत्यापन एक पुराने मुकदमे के चलते नहीं किया। इसके चलते जमानती बदला गया और अब शनिवार को रिहाई हो सकती थी। इसी बीच यह मौत इसी ओर इशारा कर रही है। इसे लेकर परिवार की ओर से हंगामा किया गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया था। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस के अनुसार, मौत का मेमो प्राप्त हो गया है। बाकी पोस्टमार्टम आदि की प्रक्रिया कराई जाएगी।

क्या बोले कारागार के वरिष्ठ अधीक्षक
कारागार के वरिष्ठ अधीक्षक का कहना है कि जेएन मेडिकल में भर्ती आरोपी रेनू शर्मा को बृहस्पतिवार सुबह जेल में दाखिल किया गया था। देर रात उनकी हालत बिगड़ने पर फिर आनन-फानन मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। मगर वहां मृत घोषित कर दिया गया। अब पूरे मामले में मजिस्ट्रेटी जांच होगी। शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios