Asianet News Hindi

सीएम योगी के इस कदम से बढ़ेंगी चीन की मुश्किलें, टीम कर रही मंथन, जानें क्या है प्लान

 शनिवार को विदेशी कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करवाने को लेकर सीएम योगी अपनी टीम के साथ एक अहम बैठक करने जा रहे हैं। इस बैठक में चीन में व्यापार कर रही कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करवाने को लेकर खास बातचीत होगी। 
 

this plan of cm Yogi increase China problems kpl
Author
Lucknow, First Published May 23, 2020, 3:17 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ(Uttar Pradesh). देश में कोरोना वायरस को रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन की वजह से लाखों की संख्या में प्रवासी श्रमिक वापस उत्तर प्रदेश आ रहे हैं। इन श्रमिकों को प्रदेश में ही रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सीएम योगी बड़े प्लान की तैयारी में जुटे हैं। बताया जा रहा है कि शनिवार को विदेशी कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करवाने को लेकर सीएम योगी अपनी टीम के साथ एक अहम बैठक करने जा रहे हैं। इस बैठक में चीन में व्यापार कर रही कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करवाने को लेकर खास बातचीत होगी। 

सूत्रों की मानें तो सीएम योगी शनिवार शाम इन्वेस्ट इंडिया को लेकर मीटिंग करेंगे। इस बैठक में सीएम योगी के अलावा उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त, प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार के अलावा अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी भी शामिल होंगे। बैठक में चीन में काम कर रही मल्तीनेशनल कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करवाने को लेकर ख़ास चर्चा होगी। 

टास्क फोर्स करवाएगी विदेशी कंपनियों को निवेश 
सूत्रों की मानें तो सीएम योगी ने विदेशी निवेशकों को लुभाने के लिए एक टास्क फ़ोर्स का गठन किया है। इस टास्क फ़ोर्स का काम मल्टीनेशनल विदेशी कंपनियों से बात कर उन्हें उत्तर प्रदेश में व्यापार का बेहतर माहौल देना होगा। ताकि वह यहां निवेश करें। बताया का रहा है कि सीएम योगी की नजर चीन में व्यापार कर रही जापानी, अमेरिकी और यूरोपियन कंपनियों पर है। सीएम योगी की यह टास्क फोर्स सीधे निवेशकों से बात कर रही है और उन्हें प्रदेश में निवेश करने का प्रस्ताव देते हुए अनेक सुविधाएं उपलब्ध कराने की गारंटी दे रही है।

यूरोपियन कंपनियों से चल रही बात 
हाल ही में विदेशी कंपनियों को उत्तर प्रदेश में निवेश करने का अवसर देने के लिए उत्तर प्रदेश के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने यूरोपियन कंपनियों के उद्योग समूह के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर बात भी की थी। इस समूह में 74 सदस्य शामिल थे। इसमें इटली, बेल्जियम, डेनमार्क आदि देशों के राजदूत भी शामिल रहे थे।

मशहूर जूते बनाने की कंपनी चीन में बंद कर रही प्लांट 
दुनिया के 80 से ज्यादा देशों में फुटवियर सप्लाई करने वाली जर्मन कंपनी वॉन वेल्क्स चीन से अपना मैन्युफैक्चरिंग प्लांट हटा रही है। बताया जा रहा है कि ये कंपनी उत्तर प्रदेश के आगरा में यूनिट लगाने वाली है। आगरा में लगने वाली यूनिट से हर साल 30 लाख जोड़ी जूते बनाए जाएंगे। पहले चरण में कंपनी आगरा में 110 करोड़ रुपये का निवेश करेगी और 10 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा। जर्मन कंपनी भारत में लैट्रिक इंडस्ट्रीज के साथ मिलकर काम करेगी। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios