Asianet News Hindi

डिमांड पूरी नहीं होने पर मां-3 महीने की मासूम को जिंदा जलाया, पड़ोसी ने बताया कुछ और ही सच

यूपी के रामपुर में दहेज की मांग पूरी न होने पर सुसराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता को आग के हवाले कर दिया। जिसमें महिला तथा उसकी तीन माह की पुत्री की जलकर मौत हो गई। 

Three month old girl was burnt alive with mother for dowry
Author
Rampur, First Published Sep 19, 2019, 6:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

रामपुर( UTTAR PRADESH ). यूपी के रामपुर में दहेज की मांग पूरी न होने पर सुसराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता को आग के हवाले कर दिया। जिसमें महिला तथा उसकी तीन माह की पुत्री की जलकर मौत हो गई। विवाहिता के भाई की तहरीर पर पुलिस ने सात लोगों के विरुद्ध दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।सुसराल पक्ष ने आरोपों को सिरे से नकार दिया है। मृतका के पड़ोसियों ने घटना के बारे में अजीबोगरीब सच बताया है।

रामपुर जनपद के टांडा थाना क्षेत्र में समादीन इलाके के निवासी जाहिद ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसने अपनी बहन की शादी नगर के उसी थाना क्षेत्र के हाजीपुरा मोहल्ले के कासिम से चार वर्ष पूर्व की थी। उस दौरान उसने हैसियत के अनुसार दान दहेज भी दिया था लेकिन बहन की सुसराल के लोग इस दहेज से संतुष्ट नही थे। 

तीन माह पूर्व पुत्री का हुआ जन्म तो दिए थे एक लाख

मृतका के भाई जाहिद ने बताया तीन माह पूर्व उसकी बहन ने एक पुत्री को जन्म दिया था। जिसके छोछक में उसने एक लाख रुपये दिए थे लेकिन इसके बाद भी बहन के ससुराल वाले संतुष्ट नहीं हुए और फिर से बहन से एक लाख रुपये और लाने को कहा। उसकी बहन ने बताया था कि उसकी जान को खतरा है लेकिन वो अपनी बहन को समझा कर चला गया।

बहन के ससुराल वालों ने जला कर मार डाला

जाहिद का आरोप है कि 17 सितंबर की रात को बहन के ससुराल वालों कासिम, वाहिद, आबिद अली, फहिमा, जाकिर, हमीदा और अनीसा ने केरोसिन डाल कर उसकी बहन तथा उसकी तीन माह की बेटी को जला कर मार दिया। उन्हें सुबह सूचना मिली तो वो मौके पर पहुंचे। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक महिला व उसकी बेटी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पड़ोसियों ने बताया ये सच

 मृतका के पड़ोसियों का कहना है कि सुबह उन्होंने अब्दुल वाहिद के घर से धुंआ उठता देखा। पड़ोसी उनके घर पहुंचे तो वहां कोई नहीं था। धुआं एक कमरे से निकल रहा था। लोगों ने दरवाजा खोलने का प्रयास किया, लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था। लोगों ने दरवाजा तोड़ दिया। अंदर फर्श पर महिला जली हुई पड़ी थी, जबकि बेड पर उसकी तीन माह की बच्ची अधजली अवस्था में पड़ी थी। महिला मर चुकी थी, जबकि बच्ची की सांसे चल रही थी। लोगों ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में उपचार के दौरान बच्ची की भी मौत हो गई।

पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर शुरू की जाँच
 एसपी अजय शर्मा ने बताया, मृतका के भाई की तहरीर पर 'दहेज और हत्या का केस दर्ज हुआ है।मामले की जांच की जा रही है । आरोपी फरार हैं उनकी धरपकड़ के लिए पुलिस टीमें लगा दी गयी हैं । दोनों शव पोस्टमार्टम के लिए जिलाअस्पताल भेज दिए गए हैं।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios