Asianet News Hindi

पुलिस का कोई अफसर सुन नहीं रहा, मेरे घरवालों को बचाओ योगी जी...वर्दी पहन धरने पर बैठा दरोगा

सीएम योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर में आम इंसान नहीं बल्कि एक दरोगा भू माफियाओं से परेशान होकर धरने पर बैठ गया। दरोगा ने हाथ में एक बैनर ले रखा है, जिसमें योगी सरकार से मदद की गुहार लगाई है। पीड़ित ने स्थानीय पुलिस पर भी माफियाओं का साथ देने का आरोप लगाया है।

trainee police inspector on dharna in gorakhpur KPU
Author
Gorakhpur, First Published Feb 8, 2020, 10:41 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गोरखपुर (Uttar Pradesh). सीएम योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर में आम इंसान नहीं बल्कि एक दरोगा भू माफियाओं से परेशान होकर धरने पर बैठ गया। दरोगा ने हाथ में एक बैनर ले रखा है, जिसमें योगी सरकार से मदद की गुहार लगाई है। पीड़ित ने स्थानीय पुलिस पर भी माफियाओं का साथ देने का आरोप लगाया है।

क्या है पूरा मामला
बड़हलगंज थाना में तैनात ट्रेनी दरोगा राहुल राव जौनपुर के मीरगंज स्थित बधवा बाजार के रहने वाले हैं। शनिवार को ये अंबेडकर चौक पर वर्दी पहन धरने पर बैठ गए। उनके हाथ में एक बैनर है, जिसपर लिखा है, आदरणीय योगी जी भूमाफिया से मेरे घरवालों और हमारी जमीन को बचाओ। उनका आरोप है कि पुलिस अफसर भी उनकी फरियाद नहीं सुन रहे, ऐसे में वो धरने के लिए मजबूर हो गए।

दबंगों से परेशान हुआ दरोगा
दरोगा ने कहा, जौनपुर में बधवा बाजार में पेट्रोल पंप के सामने मेरे पिता ने 47 डिसमिल जमीन खरीदी है। उसपर भू-माफियाओं की नजर है। ऐसे में तीन-चार दबंगों ने मेरी जमीन का ज्यादातर हिस्सा कब्जा कर मकान बना लिया है। वर्तमान में सिर्फ 9 डिसमिल जमीन ही बची है। उस इलाके के थानेदार से लेकर एसपी तक से शिकायत की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। 

एसपी ने दरोगा को किया तलब
दरोगा के धरने पर बैठने की सूचना मिलते ही विभाग में हड़कंप मच गया। अन्य पुलिसकर्मियों ने मौके पर पहुंच दरोगा को धरने से हटाया। वहीं, एसएसपी ने मामले का संज्ञान लेते हुए उसे मुख्यालय तलब किया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios