Asianet News Hindi

ट्रंप को लगा झटका, ‘बीस्ट’ कार को नहीं मिली परमिशन, अब इस तरह करेंगे ताजमहल का दीदार

2001 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ताजमहल के 500 मीटर दायरे में पेट्रोल-डीजल से चलने वाले वाहनों की एंट्री बंद कर दी गई थी। यह कदम इसलिए उठाया गया था कि कोर्ट में एक रिपोर्ट दाखिल की गई थी वाहनों के धुंए से ताजमहल प्रदूषण की चपेट में आ रहा है। प्रदूषण के चलते ही ताजमहल पीला पड़ रहा है। इसके बाद यह सख्त कदम उठाया गया और वाहनों की एंट्री 500 मीटर के दायरे में बंद कर दी गई।

Trump's 'Beast' car not allowed, now Trump will go by small bus to see Taj Mahal asa
Author
Agra, First Published Feb 24, 2020, 9:37 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

आगरा (Uttar Pradesh)। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बीस्ट कार को ताजमहल दीदार के वक्त एक चेकिंग बैरियर के पास रोक दिया जाएगा। वहां से उन्हें एक साधारण बैट्री बस में जाना होगा। बता दें कि ताज देखने के लिए आने वाले हर वीआईपी और वीवीआईपी को इस बस से या गोल्फ कार्ट ताज के गेट तक ले जाया जाता है। 

इसलिए कार नहीं जाती है ताजमहल के गेट तक
बताया जा रहा है कि 2001 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ताजमहल के 500 मीटर दायरे में पेट्रोल-डीजल से चलने वाले वाहनों की एंट्री बंद कर दी गई थी। यह कदम इसलिए उठाया गया था कि कोर्ट में एक रिपोर्ट दाखिल की गई थी वाहनों के धुंए से ताजमहल प्रदूषण की चपेट में आ रहा है। प्रदूषण के चलते ही ताजमहल पीला पड़ रहा है। इसके बाद यह सख्त कदम उठाया गया और वाहनों की एंट्री 500 मीटर के दायरे में बंद कर दी गई।

ताज के पास रहने वालों का बनता है पास
ताजमहल के पास रहने वाले नासिर खान बताते हैं कि हमारा पुराना कार ताजमहल की दीवार से करीब 25 मीटर के फासले पर था। अपनी बाइक और कार को घर के दरवाजे तक लाने के लिए एंट्री पास बनवाना पड़ता था। यह पास रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस से बनते थे। पास के लिए खासी मशक्कत करनी पड़ती थी। बिना पास के बैरियर पर बाइक और कार को रोक दिया जाता था।

इस कारण रद्द हुआ था बाराक ओबामा का दौरा
कहा जाता है कि पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का आगरा दौरा भी इन्हीं सुरक्षा कारणों के चलते रद्द हुआ था कि उनकी कार को ताज के गेट तक जाने की अनुमति नहीं दी गई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios