Asianet News HindiAsianet News Hindi

दो दिन की हिंसा के बाद एक्शन में उत्तर प्रदेश पुलिस, जानें कहां कितने लोग हुए गिरफ्तार, कितनों पर दर्ज हुई FIR

यूपी में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दो दिन की हिंसा के बाद यूपी पुलिस अब एक्शन में आ गई है। पुलिस ने पूरे प्रदेश से तकरीबन 500 लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि 6 हजार से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।  इसके आलावा लगभग 4000 उपद्रवियों को हिरासत में भी लिया गया है।

up police in action after two days of violence kpl
Author
Lucknow, First Published Dec 21, 2019, 2:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ(Uttar Pradesh ). यूपी में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दो दिन की हिंसा के बाद यूपी पुलिस अब एक्शन में आ गई है। पुलिस ने पूरे प्रदेश से तकरीबन 500 लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि 6 हजार से अधिक लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।  इसके आलावा लगभग 4000 उपद्रवियों को हिरासत में भी लिया गया है। अकेले गाजियाबाद में 3600 लोगों के खुलाफ केस दर्ज हुआ है। मामले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने सूबे की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से मुलाकात की है। 

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहा उग्र विरोध-प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हुए हिंसक प्रदर्शन में 15 लोगों की मौत हो गई, जिसमें एक आठ साल का बच्चा भी शामिल है। सूत्रों के अनुसार फिरोजाबाद में प्रदर्शन वाले इलाके में दो लोगों के शव पाए गए हैं। हांलाकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। स्कूल कॉलेज बंद हैं। कई जिलों में इंटरनेट ठप है। 

जाने कहां कितने लोगों पर दर्ज हुआ केस 
लखनऊ में 400 से अधिक दंगाइयों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। वहीं गाजियाबाद जिले के पांच थानों में 3600 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने हंगामा करने के आरोप में इन लोगों पर केस दर्ज किया है। प्रतापगढ़ में आराजकता फैलाने वाले 56 अज्ञात उपद्रवियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। सड़क जाम करने के मामले में ये एफआईआर दर्ज हुई है। मऊ में 90 नामजद व 650 अज्ञात, हमीरपुर में 25 नामजद व 25 अज्ञात, बुलदंशहर में 25 नामजद व 800 अज्ञात, हाथरस में 120 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने के सूचना है। अभी कुछ अन्य जिलों में एफआईआर की डिटेल सार्वजनिक नहीं की गई है। 

प्रदेश में 500 से अधिक लोग हुए गिरफ्तार 
पूरे प्रदेश में CAA को लेकर भड़की हिंसा में 500 से अधिक प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया गया है। अकेले लखनऊ में 218 लोग गिरफ्तार हुए हैं। इसके आलावा लगभग 4000 उपद्रवियों को हिरासत में भी लिया गया है। सूबे की डीजीपी की ओर से जारी बयान के मुताबिक़ एक-दो जनपदों को छोड़कर बाकी जगह स्थिति शांतिपूर्ण व नियंत्रण में है। 

मरने वालों की संख्या बढ़कर पहुंची 15 
हिंसा में मरने वालों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। आईजी कानून व्यवस्था प्रवीन कुमार के मुताबिक़ मरने वालो की सख्या बढ़कर 15 पहुंच गयी है। हिंसक झड़पों में सबसे ज्यादा पांच लोगों के मारे जाने की सूचना मेरठ से प्राप्त हो रही है। इसके साथ ही कानपुर, बिजनौर व फिरोजाबाद में दो-दो तथा संभल, मुजफ्फरनगर, वाराणसी व संभल में एक-एक प्रदर्शनकारी की मौत होने की सूचना है। इससे पहले गुरुवार को लखनऊ में प्रदर्शन के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। वहीं शनिवार को भी फिरोजाबाद में प्रदर्शन वाले इलाके में 2 शवों के मिलने की सूचना आ रही है। 

सीएम योगी ने की राज्यपाल से मुलाकात 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को राजभवन में पहुंचकर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल से मुलाकात की। योगी ने नागरिकता कानून को लेकर उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटे में हुई हिंसा की रिपोर्ट राज्यपाल को सौंपी है। इस दौरान सीएम-राज्यपाल के बीच प्रदेश के हालात पर चर्चा हुई है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios