Asianet News Hindi

भारत-चीन सीमा पर तनाव को देखते हुए टला राममंदिर के भूमि पूजन का कार्यक्रम, ट्रस्ट ने कहा- देश सर्वोपरि

अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम टाल दिया गया है। यह फैसला भारत-चीन सीमा पर तनाव के चलते श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने लिया है। यही नहीं, ट्रस्ट ने सीमा पर शहीद हुए वीर सपूतों को दी श्रद्धांजलि देते हुए ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी की

view of the tension on the Indo China border the program of Bhoomi Poojan of Ram temple cancel kpl
Author
Ayodhya, First Published Jun 18, 2020, 5:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अयोध्या(Uttar Pradesh). अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन का कार्यक्रम टाल दिया गया है। यह फैसला भारत-चीन सीमा पर तनाव के चलते श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने लिया है। यही नहीं, ट्रस्ट ने सीमा पर शहीद हुए वीर सपूतों को दी श्रद्धांजलि देते हुए ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना भी की। ऐसे में 2 जुलाई को श्री राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण का काम फिलहाल नहीं शुरू होगा ।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव और विहिप नेता चंपत राय ने गुरूवार को प्रेस नोट जारी करते हुए कहा कि देश की सुरक्षा हम सबके लिए सर्वोपरि है। 2 जुलाई को श्री राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण का काम फिलहाल शुभारंभ नहीं होगा। जबकि निर्माण काल की तिथि देश-काल की परिस्थिति को देखकर घोषित होगी। ट्रस्‍ट की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भूमिपूजन के लिए आमंत्रित किया गया है।

ट्रस्ट की आधिकारिक वेबसाइट भी हुई लॉन्च
अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करवाने वाली संस्था श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट बुधवार से शुरू कर दी है। ट्रस्ट की वेबसाइट का शुभारंभ प्रदेश सरकार के पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी ने किया। इस वेबसाइट में ट्रस्ट के गठन से लेकर राम मंदिर निर्माण की प्रगति का पूरा ब्यौरा अपलोड किया गया है। पर्यटन मंत्री ने रामलला के दरबार में हाजिरी लगाई। टेंट से निकलकर अस्थाई मंदिर में विराजमान होने के बाद पहली बार रामलला का दर्शन करने पहुंचे पर्यटन मंत्री राम लला की सांध्‍यकालीन आरती में भी शामिल हुए।

सोशल मीडिया पर भी होंगे रामलला के दर्शन 
श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट भक्तों को नई सौगात देने की तैयारी में है। रामलला की आरती का श्रद्धालु अब घर बैठे सोशल मीडिया के माध्यम से दर्शन कर सकेंगे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र रामलला की आरती का दर्शन अभी श्रद्धालु नहीं कर पा रहे हैं। सुबह से मंगला आरती से लेकर रात्रि की शयन आरती तक लगभग 5 आरतियां मंदिरों में होती हैं। वहीं पांचों आरतियों का सीधा प्रसारण सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारण करने की तैयारी में है । अब जल्द ही राम भक्त अपने आराध्य के आरतियों का दर्शन घर बैठे सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफ़ार्म कर होंगे।


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios