Business News

शादी में कितना खर्च करते हैं भारतीय, किस चीज पर उड़ाते हैं ज्यादा पैसा

Image credits: Freepik

भारत की वेडिंग इंडस्ट्री

देश में शादी-ब्याह खास तरीके से सेलिब्रेट किया जाता है। इस खास इवेंट पर काफी खर्च किया जाता है। देश की इकोनॉमी के लिए यह महत्वपूर्ण बनता जा रहा है।

Image credits: Freepik

भारत की वेडिंग इंडस्ट्री कितनी बड़ी

एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में वेडिंग इंडस्ट्री 130 अरब डॉलर यानी 10 लाख करोड़ तक पहुंच गई है। खाने और ग्रॉसरी मार्केट के बाद वेडिंग मार्केट दूसरा सबसे बड़ा मार्केट बन गया है।

Image credits: Freepik

शादी से मिल रहा रोजगार

एक घर में शादी होने से कई इंडस्ट्री के लोगों को रोजगार मिलता है। चूंकि, अब शादियां काफी लग्जरी होती जा रही है, जिससे इवेंट, केटेरिंग और कई इंडस्ट्री को जबरदस्त फायदा मिल रहा है।

Image credits: Freepik

अमेरिका से भी ज्यादा भारत का वेडिंग मार्केट

इंडियन वेडिंग इंडस्ट्री पर रिपोर्ट देने वाली कैपिटल मार्केट फर्म जेफरीज ने बताया कि इंडियन वेडिंग मार्केट अमेरिकी से दोगुना और चीन से कम है। यहां अरबों का कारोबार होता है।

Image credits: pexels

भारत में एक शादी का खर्च

जेफरीज की रिपोर्ट के अनुसार, भारत में केटरिंग से लेकर ज्वैलरी तक अलग-अलग खर्चों के आधर पर एक अनुमान के मुताबिक, हर शादी पर करीीब 12.50 लाख रुपए खर्च होते हैं।

Image credits: Pexels

लग्जरी शादी का एवरेज खर्च

रिपोर्ट के अनुसार, देश में लग्जरी वेडिंग का एवरेज खर्च 20-30 लाख रुपए है। इसमें सबसे ज्यादा पैसा होटल, केटरिंग, डेकोरेशन, एंटरटेनमेंट पर खर्च होता है। बाकी खर्च शामिल नहीं है।

Image credits: Freepik

शादी से किस इंडस्ट्री की कमाई

शादियों के सीजन में सर्राफा इंडस्ट्री 35-40% रेवेन्यू मिलता है। इसके बाद केटरिंग (24-26%), इवेंट प्लानिंग इंडस्ट्री (18-20%) फोटोग्राफी (10-12%), कपड़ा (9-10%) डेकोरेशन (9-10%)

Image credits: freepik