Health

ज्वाइंट्स का दर्द हो जाएगा रफूचक्कर, आज ही खाने में शामिल करें 7 Food

Image credits: Freepik

ऑलिव ऑयल

जैतून के तेल में पाया जाने वाला एंटी एंटी-इंफ्लेमेटरी कम्पाउंड ओलियोकैंथल ज्वाइंट्स पेन को कम करता है। ऑलिव ऑयल में मोनोअनसैचुरेटेड फैट जोड़ों की सूजन कम कर देता है।

Image credits: Freepik

साबुत अनाज

फाइटोकेमिकल्स और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर व्होल ग्रेंस क्रोनिक डिसीज पेशेंट्स के लिए फायदेमंद है। साबुत अनाज सी-रिएक्टिव प्रोटीन को ब्लड में कम कर जोड़ों के दर्द को दूर करती है।

Image credits: Freepik

हल्दी

टर्मरिक सप्लीमेंट का इस्तेमाल अर्थराइटिस पेशेंट्स में लंबे समय से किया जा रहा है। करक्यूमिन युक्त हल्दी जोड़ों की सूजन कम करने में मदद करती है।

Image credits: Freepik

अदरक

जिंजरोल तत्व से भरी अदरक जोड़ों की सूजन को दूर करती है। एंटीऑक्सीडेंट युक्त अदरक को गठिया पेशेंट्स रोजाना 250 मिलीग्राम सप्लीमेंट के रूप में ले सकते हैं।

Image credits: Freepik

लहसुन

एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी से भरपूर लहसुन रोजाना खाने में शामिल करना चाहिए। गार्लिक इम्यून फंक्शन को बढ़ाने के साथ ही जोड़ों के दर्द में राहत पहुंचाता है।

Image credits: Freepik

ग्रीन टी

पॉलीफिनॉल और एंटीऑक्सीडेंट्स युक्त ग्रीन टी शरीर के लिए फायदेमंद होती है। पॉलीफेनोलिक फ्रैक्शन के कारण ऑस्टिअर्थराइटिस के पेशेंट्स को बहुत लाभ पहुंचता है।

Image credits: Freepik

खट्टे फल

डाइट में बेरीज जैसे कि ब्लैकबेरी, ब्लूबेरी आदि शामिल कर सकते हैं।मिनिरल्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी वाले फूड्स सूजन को कम कर जोड़ों के दर्द से राहत पहुंचाते हैं।

Image credits: Freepik