Health

PM Modi ने सिखाए 8 अलग-अलग योगासन, जानें बड़ी बीमारियों में इनके फायदे

Image credits: PMO twitter

शलभासन

शलभासन पेट की समस्याओं के लिए रामबाण इलाज है। डायबिटीज और प्रोस्टेट ग्लैंड की समस्याओं का सबसे अच्छा इलाज शलभासन का नियमित अभ्यास है। 

Image credits: PMO twitter

मकरासन

इस आसन के अभ्यास से आप डिप्रेशन में बहुत हद तक काबू पा सकते हैं। साथ ही इसका नियमित अभ्यास से आप हमेशा-हमेशा के लिए कमर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

Image credits: PMO twitter

उत्तान मंडूकासन

उत्तान मंडूकासन करने से पेट की मांसपेशियां टोन होने के साथ बैली फैट कम करने में मदद मिलती है। पाचन से जुड़ी समस्याएं जैसे गैस, कब्ज और अपच से छुटकारा मिलता है। 

Image credits: PMO twitter

शशांकासन

शशांकासन कब्ज से राहत दिलाता है और पाचन क्रिया में सुधार लाता है। यह आसन पीठ दर्द से भी राहत दिलाता है।नियमित रूप से शशांकासन करने पर यह आसन तनाव और क्रोध घटाता है।

Image credits: PMO twitter

अर्ध उष्‍ट्रासन

अर्ध उष्‍ट्रासन को नियमित करने से कमर में लचीलापन आता है। इस आसन को बच्चे भी कर सकते है। अर्ध उष्‍ट्रासन को करते रहने से रक्तस्त्राव बढ़ जाता है और मांसपेशियां स्वस्थ रहती है।

Image credits: PMO twitter

भद्रासन

कूल्हों, जांघों और कमर को फैलाता और खोलता है। आंतरिक जांघों और पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों को टोन करता है। ये पेल्विक क्षेत्र में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है। 

Image credits: PMO twitter

अर्धचक्रासन

अर्धचक्रासन आपकी रीढ़ को लचीला बनाता है मेरुदंड तंत्रिकाओं को मजबूत बनाता है। साथ ही पीठ और गर्दन के दर्द को दूर करता है। साथ ही ये आपके ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर करता है।

Image credits: PMO twitter

वज्रासन

वज्रासन से पाचन शक्ति बढ़ती है और पेट से संबंधित रोग भी दूर होते हैं। अगर आप रोजाना खाना खाने के बाद इस आसन को करते हैं तो आपको डाइजेशन से संबंधित समस्याएं दूर रहेंगी।

Image credits: PMO twitter