Asianet News Hindi

लॉकडाउन में हुआ बेरोजगार, भूख से तड़पते परिवार को देख बना चोर, 1 बोरी चावल के बदले हैवान बनी भीड़

दुनिया के ज्यादातर देश कोरोना महामारी से तबाह हैं। इस महामारी से बचाव के लिए हर जगह लॉकडाउन लगा दिया गया है, जिसमें लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल सकते। इससे गरीबों के सामने भूखों मरने की नौबत आ गई है।

Ration ended in lockdown, hunger turned thief, only 1 sack of rice was taken MJA
Author
Indonesia, First Published Apr 26, 2020, 4:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क। दुनिया के ज्यादातर देश कोरोना महामारी से तबाह हैं। इस महामारी से बचाव के लिए हर जगह लॉकडाउन लगा दिया गया है, जिसमें लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल सकते। इससे गरीबों के सामने भूखों मरने की नौबत आ गई है। इंडोनेशिया में भी कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की वजह से लॉकडाउन लगा दिया गया है। इस दौरान यहां के मेडान नाम की जगह में एक अजीब घटना सामने आई। एक शख्स को गांव के लोगों ने इतना पीटा कि उसके पूरे शरीर से खून बहने लगा। उस शख्स का अपराध बस इतनी ही था कि उसने एक स्टाल से 5 किलो चावल की एक बोरी चुरा ली थी।

जांच से यह आया सामने
जब इस घटना की जांच की गई तो पता चला कि लॉकडाउन लगने के बाद उस शख्स की जॉब चली गई। उसके पास न तो कोई बचत थी और ना ही आमदनी का कोई दूसरा जरिया था। जब वह भूख से बेहाल हो गया तो उसने चोरी की इस घटना को अंजाम दिया, लेकिन पकड़ा गया और लोगों ने पिटाई करके उसका बुरा हाल कर दिया। यह घटना शनिवार की है। तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी गई।

एक ऑर्गनाइजेशन ने की तहकीकात
पुलिस ने एक ऑर्गनाइजेशन को इस घटना की तहकीकात करने के लिए कहा। जांच में यह पता चला कि 40 साल का वह व्यक्ति अकेला एक हट में रहता था, जिसकी छत टीन की थी। उसकी हालत वाकई काफी खराब थी। उसकी वाइफ और 3 बच्चे कोरोना वायरस फैलने के पहले ही अपने सास-ससुर के पास चले गए थे। वह उन्हें पैसे भेजता था। लेकिन जब उसकी जॉब चली गई तो वह लाचार हो गया। कुछ लोगों ने थोड़े समय तक उसकी मदद की, लेकिन उसे अपनी फैमिली की बड़ी चिंता थी।

पुलिस ने की उसकी मदद
यह सच्चाई सामने आने पर पुलिस ने तत्काल उसकी मदद की। उसे चावल, अंडे, जरूरत की दूसरी चीजें और पैसे भी दिए, ताकि उसे भूखा नहीं रहना पड़े और पेट भरने के लिए चोरी करने की नौबत नहीं आए। बहरहाल, जब तक लॉकडाउन नहीं टूटता और उसे काम नहीं मिलता, उसे दूसरों की मदद पर ही रहना होगा। इंडोनेशिया में अभी तक कोरोना वायरस के 8,607 मामले सामने आए हैं और इससे 720 लोगों की मौतें हो चुकी हैं।  

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios