Asianet News Hindi

70 साल लोहे की जंजीर से बंधी रही हथिनी, महावत ने कर दिया था ऐसा हाल

पिछले दिनों श्रीलंका में हुए धार्मिक परेड के दौरान  हथिनी टिकरी की फोटोज वायरल हुई थी। अब उसके महावत ने उसकी मौत की जानकारी दी है। 

Srilankan 70 yo elephant tikiri dies chained as slave
Author
Sri Lanka, First Published Sep 25, 2019, 3:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

श्रीलंका: जानवरों के साथ क्रूरता के कई मामले सामने आते हैं। पिछले दिनों श्रीलंका में वार्षिक त्योहार एसला पैराहेरा का आयोजन किया गया था। इसका आयोजन कैंडी में किया जाता है। जिसमें कई हाथियों को चमकीले कपड़ों से ढंककर उनसे परेड करवाया जाता है। इस परेड का हिस्सा रही टिकरी हथिनी की सबसे ज्यादा चर्चा हुई थी। 

इतनी कमजोर कि हड्डियां दिखने लगी थी 
टिकरी हथिनी के अलावा इस परेड में 60 और हाथियों ने भाग लिया था। टिकरी को चमकीले कपड़ों से ढंका गया था। लेकिन एक फोटोग्राफर की नजर जब उसपर पड़ी तो वो भी हैरान था। दरअसल, टिकरी काफी कमजोर थी। उसकी हड्डियां नजर आ रही थी। लेकिन महावत उसे कपड़ों से ढंककर उससे परेड करवा रहा था। 

सोशल मीडिया पर वायरल 
फोटोग्राफर ने उसकी तस्वीर खींच कर फेसबुक पर शेयर कर दी थी। जहां से ये वायरल हो गई। इसके बाद कई लग इस फेस्टिवल के विरोध में सामने आए थे। कई एक्टिविस्ट्स ने टिकरी की हेल्थ के लिए डोनेशन इक्कठा किया। लेकिन इसके बाद भी उसे बचाया नहीं आ सका। 24 सितंबर को उसकी मौत हो गई। ये बात उसके महावत ने ही कंफर्म की।  

जब बेहोश हो गई थी टिकरी 
परेड के दौरान टिकरी को रंगबिरंगे कपड़ों से ढंक दिया जाता था। ऐसे में पता ही नहीं चलता था कि उसकी हालत कैसी है? लेकिन परेड की प्रैक्टिस करते हुए वो अचानक बेहोश हो गई थी। तब जाकर सबका ध्यान उस पर गया था। 

इतनी बुरी थी हालत
टिकरी का मालिक उसे चेन में बांधकर रखता था। वो बीमार थी और कमजोर भी। उसे खाना पचाने में दिक्कत हो रही थी। इस कारण वो और ज्यादा कमजोर हो गई थी। आखिरकार मौत के बाद ही टिकरी को आजादी नसीब हुई। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios