Asianet News Hindi

पैसे बचाने के लिए दुधमुंहे बच्चे को बाहर सुलाया, लोगों ने दी ऐसी-ऐसी गालियां

बहुत से लोग घूमने के लिए दूसरे देशों में चले तो जाते हैं, पर वहां होने वाला ज्यादा खर्च वहन नहीं कर सकते। खर्च बचाने के लिए वे ऐसे उपाय करते हैं कि घूमने का कोई मजा नहीं रह जाता।

to save money, the baby was put to sleep, people gave such abuses
Author
Kuala Lumpur, First Published Sep 24, 2019, 11:10 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

क्वालालंपुर। दूसरे देशों की सैर करने में काफी पैसा खर्च होता है। अगर यूरोप के देशों में ट्रैवल करना हो तो खर्चा और भी बढ़ जाता है। कई लोग ऐसे होते हैं, जो यह जानते हुए भी पूरे परिवार के साथ घूमने निकल जाते हैं और खर्चा बचाने के लिए ऐसे तरीके अपनाते हैं कि उन्हें काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है। इसके साथ ही जब वे अपने साथ होने वाली बातें सोशल मीडिया पर लिख देते हैं तो लोग भी उस पर अपने रिएक्शन देने लगते हैं। ऐसा ही मलेशिया के एक परिवार के साथ हुआ, जो बहुत ही कम बजट के साथ यूरोप घूमने गया था। यह परिवार इटली की यात्रा पर गया था। वहां पैसे बचाने के लिए फैमिली ने क्या तरीके अपनाए, इसे  ‘Survival Family नाम से ट्विटर पर डाल दिया। इसके बाद लोगों की प्रतिक्रियाएं भी सामने आने लगीं।

छोटे बच्चे के साथ पति-पत्नी निकले थे विदेश यात्रा पर
इटली की यात्रा पर जाने वाली फैमिली में पति, पत्नी और उनका एक बहुत ही छोटा बच्चा था। पैसे बचाने के लिए परिवार ने जो किया, वह बहुत ही तकलीफदेह था। पति ने ट्विटर पर लिखा कि उन्होंने प्यास लगने पर सार्वजनिक नलों और झरनों से पानी पिया और सिर्फ बिस्किट खा कर गुजारा किया।

गलियों में गुजारी रात
पति ने पोस्ट में लिखा कि वहां होटल बहुत महंगे थे। साधारण होटलों का किराया भी एक रात का 50 यूरो से कम नहीं था, इसलिए उन्होंने वहां गलियों में ही बिस्तर लगा लिया और बिना एक पैसा खर्च किए रातें गुजारीं।

मिलान में 4 दिन घूमे, एक दिन होटल में रुके
उन्होंने लिखा कि वे इटली के प्रमुख शहर मिलान में 4 दिन घूमे, लेकिन सिर्फ एक दिन ही होटल में रुके, ताकि नहा-धो सकें और अपने कपड़े भी धो लें। वहां जब होटल के रूम किराए में ही शामिल नाश्ता मिला तो उन्होंने ठूंस-ठूंस कर खूब खा लिया। ऐसे तो वे कभी लंच और डिनर नहीं करते थे और कोई सस्ती चीज खा लिया करते थे। 

पत्नी और बच्चे को दिया धन्यवाद
उस व्यक्ति ने पोस्ट में अपनी पत्नी और छोटे बच्चे को धन्यवाद दिया, जिन्होंने इन सारी कठिनाइयों को लेकर ज्यादा शोर-शराबा नहीं मचाया। उसने पोस्ट में ईश्वर को धन्यवाद देते हुए लिखा कि उसकी पत्नी ने इन मुसीबतों के चलते कोई नाराजगी जाहिर नहीं की, पर एक बार वह रोने लगी जब 10 घंटे से भी ज्यादा उसे बैकपैक और बच्चे को ढोना पड़ा। उसने यह भी लिखा कि पैसे बचाने के लिए उन्होंने होटल से बस स्टैंड तक 5 किलोमीटर की दूरी पैदल तय की, जबकि उस दौरान तेज बारिश हो रही थी। 

लोगों ने क्या दी प्रतिक्रिया
उस व्यक्ति के इस पोस्ट पर लोगों ने गुस्से में भर कर प्रतिक्रिया दी। ज्यादातर लोगों ने उस व्यक्ति को गलत ठहराया जिसने महज पैसे बचाने के लिए अपनी पत्नी और छोटे बच्चे को बहुत परेशानी में डाल दिया। कई लोगों ने लिखा कि जब पैसे नहीं थे तो घूमने के लिए विदेश जाने की क्या जरूरत थी। एक ट्विटर यूजर ने तो लिखा कि यह शर्मनाक है कि कोई इंसान अपने परिवार को इतनी मुसीबत में डाल दे और छोटे बच्चे का भी ख्याल नहीं रखे। लोगों ने लिखा कि इस तरह घूमने से क्या फायदा जब इतनी मुसीबतें उठानी पड़ें। 
  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios