Asianet News HindiAsianet News Hindi

जब गैंडे ने उठाया यह खौफनाक कदम, सब रह गए हैरान

कभी-कभी चिड़ियाघरों में रहने वाले जानवर किसी न किसी वजह से गुस्से में आ जाते हैं। तब वे जो कदम उठाते हैं, वह किसी के लिए जानलेवा भी हो सकता है।

When the rhinoceros took this dreadful step, everyone was shocked
Author
Saxony, First Published Aug 31, 2019, 1:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सैक्सनी, जर्मनी। जर्मनी के एक सफारी पार्क में एक ऐसी घटना हुई, जिसमें एक गैंडे ने चिड़ियाघर की एक महिला स्टाफ पर हमला कर दिया और उसकी कार को तीन बार उठा-उठा कर पटक दिया। इसे संयोग ही कहेंगे कि इतने खौफनाक हमले के बावजूद महिला को बस मामूली खरोंचें आईं। जबकि चिड़ियाघर के तमाम स्टाफ को लग रहा था कि इस हमले में महिला की जान शायद ही बच सके। 

क्यों उग्र हुआ गैंडा
जू के स्टाफ का कहना है कि यह गैंडा अचानक इतना उग्र क्यों हो गया, यह बात समझ से परे है। महिला ने उसे उकसाने वाली कोई बात नहीं की थी। स्टाफ ने यह भी कहा कि पहले इस गैंडे ने ऐसा कुछ भी नहीं किया। वह हमेशा शांत रहता था। 

बनाया वीडियो
लोअर सैक्सनी के सेरेन्गेटी पार्क स्थित इस जू में कुसिनी नाम के इस 30 साल के गैंडे द्वारा महिला स्टाफ की कार पर हमला किए जाने की घटना का एक चश्मदीद ने वीडियो बना लिया। वीडियो के फुटेज में साफ दिखता है कि गैंडे ने कार को तीन बार उछाला। जब भी कार जमीन पर आती, गैंडा उसे हवा में उछाल देता।

क्या कहा सफारी पार्क के ऑफिशियल्स ने
सफारी पार्क के ऑफिशियल्स ने इस घटना के बारे में बताते हुए कहा कि कार चला रही महिला स्टाफ एक वेटरन जू-कीपर है। उसे कुछ चोटें आई हैं और उसका इलाज हो रहा है। कहा गया कि महिला जल्द ही काम पर लौटेगी। 

ब्रीडिंग के लिए लाया गया था गैंडा
सफारी पार्क के ऑफिशियल्स ने कहा कि कुसिनी नाम के इस गैंडे को ब्रीडिंग करवाने के मकसद से 18 महीने पहले लाया गया था। अभी उसे यहां के माहौल में एडजस्ट करने में थोड़ा समय लग सकता है, लेकिन ऐसा व्यवहार इसने पहली बार किया है। फिर भी इस बात को लेकर चर्चा चल रही है कि क्या इसे किसी दूसरे जू में शिफ्ट कर दिया जाए, जहां इसे लोगों और व्हीकल्स से दूर रखा जा सके।   
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios