थिंपू. पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर भूटान नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक ने एक प्रर्थना सभा का आयोजन किया। उन्होंने मठ में सभा आयोजन करते हुए श्रद्धांजलि दी। गुरुवार को हुई इस सभा में सुषमा की फोटो के सामने घी के हजार दिये जलाए गए। इस दौरान उन्होंने दिवंगत मंत्री के परिजन और सरकार को शोक संदेश भेजा। इससे पहले बीती रात 7 बजे सुषमा का निधन हो गया था। जब सुषमा स्वराज विदेश मंत्री थी तो उन्होंने पूरे परिवार के साथ भारत की यात्रा की थी। भूटान नरेश के बेटे के साथ सुषमा की फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुईं थी। 

वह भूटान की अच्छी दोस्त थीं
वहीं भूटान के प्रधानमंत्री लोटे शोरिंग ने कहा कि सुषमा का निधन न केवल बीजेपी, बल्कि देश के लिए बड़ी क्षति है। भूटान और भारत के संबंधों में सुषमा की भूमिका अहम थी। उन्होंने देशों के संबंधों को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने देश के तरफ से शोक व्यक्त करते हुए कहा- मुझे पिछले साल भारत यात्रा पर जाने का मौका मिला था। हम उन्हें हमेशा याद रखेंगे। 

50 देशों ने जताया शोक
पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर 50 देशों ने शोक जताया है। इन सभी देशों के राजनयिकों ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर संदेश लिखकर श्रद्धांजली दी। यूएन में भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया। वीडियो में सभी देशों के राजनयिक संदेश लिखते हुए नजर आए। जर्मनी, घाना, इटली, क्यूबा, अफगानिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश जैसे कई देश शामिल हैं।