Asianet News HindiAsianet News Hindi

पाकिस्तानी सेना की खोली पोल तो महिला वकील का अपहरण कर 4 दिन तक प्रताड़ित किया, खेत में फेंका

पाकिस्तान में सच बोलने पर आम लोगों के साथ साथ अब पत्रकार और वकीलों को भी निशाना बनाया जाने लगा है। यहां हाल ही में एक महिला वकील को पाकिस्तानी सेना की आलोचना करने पर किडनैप कर लिया गया। इतना ही नहीं महिला वकील को चार दिन प्रताड़ित किया गया। 

Female Lawyer in Pakistan Tortured For Giving Speech Against Army KPP
Author
Islamabad, First Published Aug 30, 2020, 6:54 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में सच बोलने पर आम लोगों के साथ साथ अब पत्रकार और वकीलों को भी निशाना बनाया जाने लगा है। यहां हाल ही में एक महिला वकील को पाकिस्तानी सेना की आलोचना करने पर किडनैप कर लिया गया। इतना ही नहीं महिला वकील को चार दिन प्रताड़ित किया गया। इसके बाद उसके हाथ पैर बांध कर बेहोशी की हालत में उसे खेत में फेंक दिया गया। महिला वकील इशरत नसरीन की बस इतना कसूर था कि उन्होंने पाकिस्तानी सेना की पोल खोली थी। 

मानवाधिकार कार्यकर्ता आरिफ अजाकिया ने इस घटना की जानकारी दी। उन्होंने वकील का सेना की आलोचना करने वाला वीडियो भी शेयर किया है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, वकील इशरत नसरीन को पिछले हफ्ते उनके दफ्तर से अगवा किया गया था। इसके बाद वे मैल्सी में ढोडा रोड के किनारे बेहोशी की हालत में मिली थीं। 

15 अगस्त को किया गया था किडनैप
आरिफ अजाकिया ने एक और वीडियो शेयर किया है, इसमें महिला वकील से कुछ लोग सवाल पूछते दिख रहे हैं। वे ठीक से जवाब भी नहीं दे पा रहीं हैं। महिला वकील दिपालपुर  की रहने वाली हैं। उन्हें 15 अगस्त को किडनैप किया गया था। वकील के बेटे की ओर से अपहरण की रिपोर्ट भी दर्ज कराई गई थी। 

पहले भी हो चुकीं ऐसी घटनाएं
यह पहला मौका नहीं है जब पाकिस्तान में सच बोलने पर सचा मिली हो। इससे पहले इमरान खान की आलोचना करने पर एक पत्रकार को किडनैप कर लिया था। एक भ्रष्टाचार के मामले में पत्रकार को कोर्ट में गवाही देनी थी। इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया था।  

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios