Asianet News HindiAsianet News Hindi

Hong Kong के स्कूलों पर अब China का झंडा फहरेगा, चीनी राष्ट्रगान अनिवार्य, नहीं गाने पर मिलेगी यह सजा

हांगकांग में अगले साल की शुरुआत से सभी निजी किंडरगार्डन, प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों को रोज राष्ट्रीय ध्वज फहराना होगा साथ ही हफ्ते में एक बार राष्ट्रगान गाने के साथ-साथ ध्वजारोहण समारोह आयोजित करना होगा। 

Hong Kong new law, China national flag will hoist at every schools of Hongkong, Chinese National Anthem is mandatory for students DVG
Author
Hong Kong, First Published Nov 22, 2021, 6:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हांगकांग। चीन (China) का झंडा (national flag) अब हांगकांग (Hong Kong) के निजी स्कूलों पर दिखेगा। हांगकांग में नए कानून (Hong Kong Anthem Law) के तहत यह निर्णय लिया गया है। साथ ही हर स्कूल में अब चीनी राष्ट्रगान भी गाया जाएगा। चीन के प्रति हांगकांग के नागरिकों को वफादार बनाने के लिए चीन का झंडा और राष्ट्रगान थोपा गया है। एक सरकारी बयान के हवाले से बताया है कि इस नई नीति का उद्देश्य राष्ट्रीय शिक्षा (National Education) को बढ़ावा देना और छात्रों में राष्ट्रीय भावना को विकसित करना है। राष्ट्रगान से जुड़े नियम के जरिए छात्रों में चीनी लोगों के प्रति लगाव और राष्ट्र भावना को बढ़ाया जाएगा।

अगले साल शुरू होंगे सभी स्कूल में राष्ट्रगान

हांगकांग में अगले साल की शुरुआत से सभी निजी किंडरगार्डन, प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों को रोज राष्ट्रीय ध्वज फहराना होगा साथ ही हफ्ते में एक बार राष्ट्रगान गाने के साथ-साथ ध्वजारोहण समारोह आयोजित करना होगा। इस साल जून महीने में राष्ट्रगान अध्यादेश के कानून के बाद इस जनादेश की घोषणा की गई थी। इस नए नियम के तहत राष्ट्रगान या ध्वज का ‘अपमान’ करने की किसी भी गतिविधि को अपराध माना जाएगा और ऐसा करने वाले को सजा मिलेगी। इसके जरिए सरकार की कोशिश उन लोगों की आवाज को दबाना है, जो चीन के अत्याचारों और मजबूत होती पकड़ का विरोध करते हैं।

हो रहा विरोध

इस नई नीति का छात्र और शिक्षक दोनों ही विरोध कर रहे हैं। विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि वह बस खड़े रहेंगे और राष्ट्रगान नहीं गाएंगे। एक शिक्षक ने कहा, ‘राष्ट्रगान गाना उतना जरूरी नहीं है, यह बस एक परंपरा है। क्या आपको लगता है कि राष्ट्रगान गाकर छात्र चीन समर्थक बन जाएंगे?’ कई विशेषज्ञों का कहना है कि यह नीति… उन्हें (छात्रों को) एक चीनी राष्ट्र में चीनी नागरिक बनाने की कोशिश की शुरुआत है।’

यह भी पढ़ें:

West Bengal BJP खेमे में निराशा: SC ने कहा-मुकुल रॉय केस में विधानसभा अध्यक्ष निर्णय लेंगे

Andhra Pradesh में तीन-तीन राजधानियों का प्रस्ताव वापस

Pakistan नहीं बढ़ा रहा पेट्रोल के दाम, पेट्रोल पंप डीलर पूरे देश में 25 नवम्बर को हड़ताल पर

Farm Laws: सिंघु बार्डर पर निर्णय-पीएम मोदी को लिखेंगे खुला पत्र, पूछा टेनी को क्यों नहीं किया जा रहा बर्खास्त

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios