Asianet News HindiAsianet News Hindi

इस अमीर देश की सरकार युवाओं को कह रही खूब पियो शराब, जाम छलकाने को बढ़ावा देने की है यह वजह

जापान ने वयस्क नागरिकों के बीच शराब के सेवन को बढ़ावा देने के लिए अभियान शुरू किया है। जनसंख्या संकट दूर करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने यह पहल किया है। 
 

Japan asks its youth to drink more alcohol launches campaign vva
Author
Tokyo, First Published Aug 20, 2022, 12:44 PM IST

टोक्यो। दुनिया के सबसे धनी देशों में से एक जापान अपने नागरिकों से कह रहा है कि शराब का सेवन बढ़ाएं। वयस्क लोग अधिक से अधिक जाम छलकाएं इसके लिए जापान ने अभियान लॉन्च किया है। जापान सरकार की ओर से शराब को बढ़ावा देने का उद्देश्य आमदनी बढ़ाना है। सरकार की आमदनी घट रही है, इसके चलते उसने वयस्क लोगों से कहा है कि अधिक शराब का सेवन करें। जापान की सरकार ने कोरोना महामारी से उत्पन्न गंभीर जनसंख्या संकट को दूर करने और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए यह पहल किया है। 

शराब को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया अभियान
जापान की नेशनल टैक्स एजेंसी (एनटीए) ने "Sake Viva!" नामक एक राष्ट्रीय व्यापार प्रतियोगिता की घोषणा की है। इसका लक्ष्य अपनी युवा आबादी में शराब के सेवन को बढ़ावा देना है। अभियान में युवाओं से ऐसे बिजनेस आइडिया मांगे गए हैं, जिससे सेक, शोचु, आवामोरी, बीयर, व्हिस्की और वाइन जैसे जापानी शराब की मांग बढ़े। 

प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए नहीं देना होगा फीस
जापानी टैक्स एजेंसी ने इसे एक ऐसी योजना बताया है जो शराब उद्योग को पुनर्जीवित करने और समस्याओं का हल करने में योगदान करेगी। अभियान में 20-39 साल के युवाओं से आइडिया मांगे गए हैं कि किस तरह शराब की बिक्री को बढ़ाया जा सकता है। अभियान में शामिल होकर लोग उत्पादों और डिजाइनों के लिए नए प्रस्ताव पेश कर सकते हैं। प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए कोई एंट्री फीस नहीं देना होगा।

यह भी पढ़ें- सो गए 37 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ते विमान के दोनों पायलट, रनवे से आगे बढ़ने के 25 मिनट बाद खुली नींद

एनटीए के अनुसार आंकड़ों से पता चलता है कि वर्ष 1995 की तुलना में 2020 में जापानी कम शराब पी रहे थे। जापान के कोविड -19 महामारी की चपेट में आने के बाद लोगों ने शराब का सेवन कम कर दिया है। 1995 में लोग प्रतिव्यक्ति 100 लीटर शराब का सेवन कर रहे थे अब यह घटकर 75 लीटर रह गया है।

यह भी पढ़ें-  अपनों की मौत पर काट दिया जाता है औरतों का ये अंग, यहां फैली इस कुप्रथा को जान कांप जाएगी रूह

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios