Asianet News HindiAsianet News Hindi

मोदी-मोदी के नारों से गूंजा यूनेस्को हेडक्वार्टर, प्रधानमंत्री ने कहा- राम में रम गया पेरिस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पेरिस स्थित यूनेस्को के हेडक्वार्टर में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। इस दौरान यहां मौजूद लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाए। यहां संत श्री मोरारी बापू की मौजूदगी को लेकर मोदी ने कहा कि इन दिनों पेरिस भी राम में रम गया है।

Modi...Modi chants during PM Modi address to Indian community at UNESCO Headquarters in Paris
Author
Paris, First Published Aug 23, 2019, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पेरिस. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को पेरिस स्थित यूनेस्को के हेडक्वार्टर में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। इस दौरान यहां मौजूद लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाए। यहां संत श्री मोरारी बापू की मौजूदगी को लेकर मोदी ने कहा कि इन दिनों पेरिस भी राम में रम गया है। पूज्य बापू के साथ यहां सब राम की भक्ति में डूब गए हैं। उन्होंने कहा, मोरारी बापू कथा का समय इंद्र के सामने भी नहीं बदलते, लेकिन आज उन्होंने नरेंद्र मोदी के लिए वक्त बदल दिया। बापू के रग-रग में रामभक्ति और राष्ट्रभक्ति है, इसलिए उन्होंने ऐसा किया।

मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

1- मोदी ने कहा, ''भारत और फ्रांस के बीच संबंध सैकड़ों साल पुराना है। हमारी दोस्ती किसी स्वार्थ पर नहीं, बल्कि लिबर्टी, इक्वलिटी और फ्रेटरनिटी के ठोस आदर्शों पर टिकी है। भारत और फ्रांस की मित्रता अटूट है। ये मित्रता से कहीं आगे है। ये वर्षों पुरानी है। ऐसा कोई वैश्विक मंच नहीं होगा, जहां भारत और फ्रांस ने एक दूसरे का समर्थन न किया हो और साथ काम न किया हो।''

2- उन्होंने कहा, ''जब भारत या फ्रांस को कोई उपलब्धि मिलती है, तो हम एक दूसरे के लिए खुश होते हैं। फ्रांस की फुटबॉल टीम के समर्थकों की संख्या शायद जितनी फ्रांस में नही होगी, उससे ज्यादा भारत में होगी। फ्रांस की सरकार, राष्ट्रपति मैक्रों, और फ्रांस की जनता का मुझे आमंत्रित करने और आप सभी से मिलने का अवसर देने के लिए आभार व्यक्त करता हूं।''

3- प्रधानमंत्री ने कहा ''मैं फुटबॉल प्रेमियों के बीच में आया हू्ं तो आप जानते हैं कि गोल का महत्व क्या होता है। अल्टीमेट अचीव करना है तो गोल ही करना होता है। हमने पिछले पांच सालों में कुछ ऐसे गोल कर रखे हैं, जो पहले नामुमकिन माने जाते थे। टीम भावना से हमने उन गोलों को, उन लक्ष्यों को साकार कर दिखाया।''

4- मोदी ने कहा, ''भारत में पिछले पांच सालों में ढेर सारे सकारात्मक बदलााव हुए हैं। इन बदलावों के केंद्र में भारत की युवा शक्ति, भारत के गांव, गरीब, किसान और नारी शक्ति इसके केंद्र बिंदु में रहे हैं। ये जनादेश सिर्फ एक सरकार चलाने के लिए नहीं, बल्कि नए भारत के निर्माण के लिए है।''

5- उन्होंने कहा, ''पूरी दुनिया में एक तय समय में सबसे ज्यादा बैंक अकाउंट अगर किसी देश में खुले हैं, तो वो भारत है। पूरी दुनिया की अगर आज सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा की स्कीम किसी देश में चल रही है, तो उस देश का नाम भारत है।''

6- मोदी ने कहा, ''सुख की तरह हम दुख की घड़ी में भी उतनी ही घनिष्ठता के साथ खड़े हैं। फ्रांस में हुए एयर इंडिया के दो विमान हादसों का यहां स्मारक भी है। इन हादसों में कई भारतीय यात्रियों का निधन हुआ था। इनमें भारत के महानतम वैज्ञानिकों में से एक डॉ. होमी जहांगीर भाभा भी थे। भारत के उस महान सपूत और प्राण गंवाने वाले अन्य भारतीयों को मैं अपनी श्रद्धांजलि देता हूं। इस मेमोरियल का हर पत्थर एकदूसरे के लिए संवेदनशीलता का जीताजागता सबूत है।''

7- प्रधानमंत्री ने कहा, ''आज नए भारत में भ्रष्टाचार, भाई-भतीजावाद, परिवारवाद, जनता के पैसे की लूट, आतंकवाद पर जिस तरह लगाम कसी जा रही है वैसा पहले कभी नहीं हुआ।''

8- मोदी ने कहा, ''नए भारत में थकने, रुकने का सवाल ही पैदा नहीं होता। नई सरकार को बने ज्यादा दिन नहीं हुए हैं, अभी सिर्फ 75 दिन ही हुए हैं। स्पष्ट नीति और सही दिशा से प्रेरित होकर एक के बाद एक कई बड़े फैसले लिए गए हैं। नई सरकार बनते ही जल शक्ति के लिए एक नए मंत्रालय को बनाया गया।''

9- उन्होंने कहा,  ''भारत आज स्टार्टअप की दुनिया में भी बहुत आगे है। छोटे-छोटे शहरों के टैलेंटेड युवा एक से बढ़कर एक इनोवेशन कर रहे हैं। पिछले 5 साल में हमने देश की अनेक कुरीतियों को रेड कार्ड दे दिया है।'' 

10- मोदी ने कहा, ''टटक्लाइमेट चेंज का जो लक्ष्य 2030 के लिए रखा गया था, उनमें से ज्यादातर को भारत एक-डेढ़ साल में हासिल कर लेगा। हिंदुस्तान वही है, गांधी भी वही हैं, आप भी वही हैं। इस बार गांधी के 150वीं जयंती मनाई जा रही है।''

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios