Asianet News HindiAsianet News Hindi

पाकिस्तान ने गजनवी मिसाइल का परीक्षण किया, इसे टक्कर देने के लिए भारत के पास 4 मिसाइलें

भारत के साथ बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का परीक्षण किया है। महानिदेशक इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा, मिसाइल 290 किलोमीटर तक के टारगेट तबाह कर सकती है। उन्होंने ट्विटर पर मिसाइल लॉन्च का वीडियो भी पोस्ट किया। साथ में लिखा कि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए टीम की सराहना की और राष्ट्र को बधाई दी। इससे पहले मई में पाकिस्तान ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन- II का सफल परीक्षण किया था। 
 

Pakistan test fires ballistic missile Ghaznavi, Army and Missiles comparison
Author
Islamabad, First Published Aug 29, 2019, 4:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत के साथ बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान ने बैलिस्टिक मिसाइल गजनवी का परीक्षण किया है। महानिदेशक इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा, मिसाइल 290 किलोमीटर तक के टारगेट तबाह कर सकती है। उन्होंने ट्विटर पर मिसाइल लॉन्च का वीडियो भी पोस्ट किया। साथ में लिखा कि राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए टीम की सराहना की और राष्ट्र को बधाई दी। इससे पहले मई में पाकिस्तान ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन- II का सफल परीक्षण किया था। 

सोनमियानी उड़ान परीक्षण केंद्र से हुआ मिसाइल टेस्ट
पाकिस्तान ने कराची के पास सोनमियानी उड़ान परीक्षण केंद्र से मिसाइल टेस्ट किया। गजनवी एक हाइपरसोनिक जमीन से जमीन पर कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल है। इसकी क्षमता 290-320 किमी के बीच है। इसे गजनवी या हत्फ-3 मिसाइल के नाम से जाना जाता है। इसके बनाने की शुरुआत 1987 में हुई थी। कई परीक्षण से गुजरने के बाद 2007 में इसे पाकिस्तानी सेना में शामिल किया गया। 

गजनवी के जवाब में भारत के पास चार मिसाइलें
गजनवी के टक्कर में भारत के पास एक नहीं बल्कि चार मिसाइलें हैं। छोटी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल पृथ्वी-2, पृथ्वी-3, धनुष और छोटी दूरी की क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस आसानी से गजनवी को टक्कर दे सकती हैं। 

यह 4 मिसाइलें देंगी टक्कर
पृथ्वी-2 (रेंज 350 किमी. पेलोड 350-750 किलो.)
पृथ्वी-3 (रेंज 300-350 किमी. पेलोड 500-1000 किलो.)
धनुष (रेंज 250-350 किमी. पेलोड 500-1000 किलो.) 
ब्रह्मोस (रेंज 300-500 किमी. पेलोड 300 किलो.)

*किसी भी मिसाइल, विमान या रॉकेट में विस्फोटक को ले जाने की क्षमता को पेलोड कहते हैं। पेलोड कितना है यह उस विमान या मिसाइल की विशेषता को बताता है।

- सेंटर फॉर स्ट्रेटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज (सीएसआईएस) के मुताबिक, भारत के पास नौ तरह की ऑपरेशनल मिसाइलें हैं, जिनमें 3,000 किमी से 5,000 किमी तक की अग्नि -3 शामिल हैं। सीएसआईएस ने कहा कि चीनी सहायता से निर्मित पाकिस्तान के मिसाइल कार्यक्रम में शॉर्ट और मध्यम दूरी के हथियार शामिल हैं।

भारत से छोटी है पाकिस्तान की थल सेना
भारत के पास 1.2 मिलियन थल सैनिक हैं। आईआईएसएस के अनुसार 3,565 से अधिक टैंक, 3,100 पैदल इन्फैंट्री फाइटिंग व्हीकल्स, 336 बख्तरबंद गाड़ियां और 9,719 तोप हैं। पाकिस्तान की सेना छोटी है, जिसमें 560,000 सैनिक 2,496 टैंक, 1,605 बख्तरबंद गाड़ियां और 4,472 आर्टिलरी गन हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios