Asianet News Hindi

पाक में विपक्ष का शक्ति प्रदर्शन देख बौखलाए इमरान, पुलिस ने नवाज शरीफ के दामाद को किया गिरफ्तार

पाकिस्तान में इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष ने घेराबंदी शुरू कर दी है। इसी क्रम में विपक्ष ने रविवार को कराची में दूसरी रैली की। इस रैली में लाखों की संख्या में लोग पहुंचे। बताया जा रहा है कि इस जनसैलाब ने इमरान खान और पाकिस्तानी सेना की नींद उड़ा दी है। 

protest by Pakistan Opposition parties against PM Imran Khan Police arrests Maryam Nawaz  husband KPP
Author
Islamabad, First Published Oct 19, 2020, 8:35 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष ने घेराबंदी शुरू कर दी है। इसी क्रम में विपक्ष ने रविवार को कराची में दूसरी रैली की। इस रैली में लाखों की संख्या में लोग पहुंचे। बताया जा रहा है कि इस जनसैलाब ने इमरान खान और पाकिस्तानी सेना की नींद उड़ा दी है। अब पुलिस ने कराची से नवाज शरीफ के दामाद और मरियम नवाज के पति कैप्टन सफदर को गिरफ्तार कर लिया है। मरियम नवाज कराची में रैली में शामिल हुई थीं। 

मरियम नवाज ने ट्वीट कर कहा, मैं कराची में रुकी थी। पुलिस ने मेरे होटल में कमरे का दरवाजा तोड़ा और कैप्टन सफदर को गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा उन्होंने एक वीडियो भी रिट्वीट किया, इसमें उनके होटल का दरवाजा टूटा हुआ नजर आ रहा है। 

11 पार्टियों की रैली से बौखलाए इमरान
20 सितंबर को पाकिस्तान में 11 विपक्षी दलों ने एक गठबंधन बनाया। इस बैनर के नीचे सभी पार्टियां सरकार गिराने के लिए आंदोलन कर रही हैं। इसे पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) नाम दिया गया है। पीडीएम की कराची में रविवार को दूसरी रैली हुई। विपक्ष ने इमरान ही नहीं बल्कि पाकिस्तानी सेना के खिलाफ भी मोर्चा खोल रखा है। इस संयुक्त विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व मौलाना फजलुर रहमान कर रहे हैं।

अब क्वेटा में होगी तीसरी रैली
पीडीएम इमरान सरकार के खिलाफ लगातार मोर्चेबंदी कर रहा है। इसी क्रम में अब  25 अक्टूबर को क्वेटा में तीसरी रैली होगी। इसके बाद चौथी रैली 22 नवंबर को पेशावर में और पांचवी रैली 30 नवंबर को मुल्तान में होगी। इस गठबंधन की अंतिम रैली 13 दिसंबर को लाहौर में होगी।

नवाज शरीफ ने बोला था हमला
नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के मामले में जेल में बंद हैं। हालांकि, उन्हें कोर्ट से लंदन में इलाज कराने की अनुमति मिली है। हाल ही में उन्होंने लंदन से ही विपक्ष की संयुक्त रैली को संबोधित किया था। उन्होंने आरोप लगाया है कि पिछले चुनाव में फौज ने धांधली की। इसी वजह से लोगों का भरोसा टूटा। उन्होंने कहा, इमरान से उतनी दिक्कत नहीं, जितनी फौज की गलत हरकतों से है। उसे राजनीति से दूर होना होगा। नवाज तीन बार पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने, लेकिन उन्हें तीनों बार सेना की वजह से सत्ता से हटना पड़ा। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios