Asianet News HindiAsianet News Hindi

Afghanistan: ब्लैक हॉक चॉपर लेकर उड़ रहे बर्बर तालिबानी, किसी शख्स को मारकर लटका दिया, वीडियो में कैद जंगलीपन

यूएस आर्मी ने अपने इस्तेमाल के लिए बीते महीने ही 7 ब्लैक हॉक चॉपर मंगाए थे। अमेरिकी आर्मी ने तालिबान से मुकाबला करने और अफगानिस्तान पर नियंत्रण के लिए बीस सालों में लाखों-करोड़ रुपये के हथियार खरीदे थे। 

Taliban brutality in Afghanistan  Gunman patrolling in Black hawk chopper with hanging a man from it
Author
Kabul, First Published Aug 31, 2021, 7:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काबुल। अफगानिस्तान पर कब्जा जमाए तालिबान ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। अमेरिका के छोड़े हथियारों और सैन्य हेलीकॉप्टर्स के साथ वह तफरीह करते दिख रहे हैं। हालांकि, बर्बर तालिबान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। सोशल मीडिया पर तालिबान का एक वीडियो वायरल हो रहा है। तालिबानी अमेरिका का ब्लैक हॉक उड़ा रहे हैं और उसमें से एक शख्स को मारकर लटका कर घूमा रहे हैं। 

कुछ पत्रकारों और सोशल एक्टिविस्ट्स ने बर्बर तालिबानियों के वीडियो को ट्वीटर पर शेयर कर उसके नापाक हरकतों को दुनिया के सामने लाने का प्रयास कर रहे हैं। ब्लैक हॉक हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल तालिबानी पेट्रोलिंग के लिए कर रहे हैं। 

वीडियो फुटेज में दिखता है कि अमेरिकी सेना के हेलिकॉप्टर से एक शख्स लटका हुआ दिख रहा है। यह वीडियो जमीन से शूट किया गया था, इसलिए यह पता नहीं चल पा रहा है कि हेलिकॉप्टर से बंधा हुआ शख्स जिंदा था या नहीं। लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि तालिबान ने एक शख्स का कत्ल कर उसे ही रस्से के सहारे हेलिकॉप्टर से लटकाया था। 

तालिब टाइम्स नाम के ट्विटर अकाउंट से यह वीडियो शेयर कर लिखा गया है कि यह हमारी एयरफोर्स है, जो कंधार में पेट्रोलिंग कर रही है। इस अकाउंट के डिटेल से यह प्रतीत होता है कि यह तालिबान से जुड़ा हुआ है। हालांकि, इस डिटेल्स में सत्यता कितनी है यह सत्यापित नहीं है। 

अफगानिस्तान छोड़ने के ऐन वक्त पहले 7 ब्लैक हॉक चॉपर यूएस आर्मी ने मंगाई थी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यूएस आर्मी ने अपने इस्तेमाल के लिए बीते महीने ही 7 ब्लैक हॉक चॉपर मंगाए थे। अमेरिकी आर्मी ने तालिबान से मुकाबला करने और अफगानिस्तान पर नियंत्रण के लिए बीस सालों में लाखों-करोड़ रुपये के हथियार खरीदे थे। 

हालांकि, अमेरिका का दावा है कि उसने अपने सैनिकों की वापसी के साथ ही 73 एयरक्राफ्ट, कई हाईटेक डिफेंस सिस्टम और वेपन सिस्टम्स को डिसेबल कर दिया है। 30 अगस्त को तय सीमा के भीतर ही अमेरिकी सैनिकों की वापसी हो गई थी। इसके बाद अफगानिस्तान पर तालिबान का पूर्ण नियंत्रण हो गया। हथियार लिए तालिबानियों ने काबुल हवाई अड्डे पर कब्जा के साथ फायरिंग कर जश्न मनाया। 

यह भी पढ़ें:

लीजिए पेश है Taliban सरकार में पहला कबाड़ चीजों का बना म्यूजियम; जानिए ये क्या बला है

Taliban के 'सत्ता' में आते ही फिर जिंदा हुआ महिलाओं में टॉर्चर का खौफ, लेडी आर्टिस्ट ने दिखाया दर्द

जम्मू-कश्मीरः अचानक कहां गायब हो गए घाटी के 60 युवा, एलओसी पर आतंकी कैंप हुए आबाद

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios